खेल-खेल में हुआ कुछ ऐसा कि चली गयी 13 साल की बच्ची की जान

Girl dies while saving dog
प्रतिरूप फोटो
कुत्ते के बच्चे को बचाने की कोशिश में एक इमारत की नौवीं मंजिल की छत से गिरने से 13 वर्षीय बच्ची और पालतू पशु की मौत हो गई। पिल्ले की गर्दन लोहे की ग्रिल के बीच फंस गई थी। ज्योत्सना ने पिल्ले को बचाने की कोशिश की लेकिन संतुलन खो बैठी और उस जानवर के साथ जमीन पर गिर गई।

गाजियाबाद, 25 अगस्त गाजियाबाद के कविनगर इलाके में एक दुखद घटना में पालतू कुत्ते के बच्चे को बचाने की कोशिश में एक रिहायशी इमारत की नौवीं मंजिल की छत से गिरने से 13 वर्षीय बच्ची और पालतू पशु की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार सातवीं कक्षा की छात्रा और अपने माता-पिता की इकलौती संतान ज्योत्सना बुधवार को अपने पालतू कुत्ते के बच्चे के साथ छत पर खेल रही थी, जब यह घटना घटी।

इसे भी पढ़ें: प्रेम प्रसंग के चलते ऑनर किलिंग मे लड़की का पिता गिरफ्तार

पिल्ले की गर्दन लोहे की ग्रिल के बीच फंस गई थी। ज्योत्सना ने पिल्ले को बचाने की कोशिश की लेकिन अपना संतुलन खो बैठी और उस पालतू जानवर के साथ जमीन पर गिर गई। पुलिस ने बताया कि एक सुरक्षा गार्ड और अन्य निवासियों ने लड़की को खून से लथपथ पाया। उसे तुरंत पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पालतू जानवर की भी मौत हो गई। लड़की के पिता ललित मोहन शर्मा एक निजी कंपनी में मैनेजर हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़