महाराष्ट्र में कोरोना के 16,408 नये मामले, कुल संख्या बढ़ कर 7,80,689 हुई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2020   08:43
महाराष्ट्र में कोरोना के 16,408 नये मामले, कुल संख्या बढ़ कर 7,80,689 हुई

विभाग के मुताबिक 296 और मरीजों की मौत हो जाने से राज्य में इस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़ कर 24,399 हो गई। मुंबई में रविवार को 1,237 मामले सामने आये और 30 मरीजों की मौत हुई। इसके साथ ही मुंबई में संक्रमण के कुल मामले बढ़ कर 1,44,626 हो गये।

मुंबई।  महाराष्ट्र में कोविड-19 के एक दिन में 16,408 नये मामले सामने आने के साथ रविवार को कुल आंकड़ा बढ़ कर 7,80,689 पहुंच गया। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। विभाग के मुताबिक 296 और मरीजों की मौत हो जाने से राज्य में इस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़ कर 24,399 हो गई। मुंबई में रविवार को 1,237 मामले सामने आये और 30 मरीजों की मौत हुई। इसके साथ ही मुंबई में संक्रमण के कुल मामले बढ़ कर 1,44,626 हो गये।

वहीं, शहर में अब तक 7,626 मरीजों की मौत हुई है। मुंबई महानगर क्षेत्र के नवी मुंबई में 488 और कल्याण डोम्बीवली में 366 नये मामले सामने आये। पुणे में 1,163 मामले, पिंपरी चिंचवड में 1,072 , नागपुर शहर में 836, नासिक शहर में 1,049, कोल्हापुर शहर में 305, सांगली शहर में 297, लातूर में 154 और नांदेड़ में 128 मामले रविवार को सामने आये। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि आज दिन में दर्ज की गई 296 मौतों में 220 मौतें पिछले 48 घंटे में हुई जबकि 43 मौतों के आंकडें पिछले हफ्ते के हैं और शेष 33 मौतें पिछले हफ्ते से पहले की हैं। 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में बारिश के कारण आठ लोगों की मौत, गुजरात और ओडिशा में भी बाढ़ से स्थिति बेहाल

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राज्य में करीब 7,690 मरीजों के इस रोग से उबरने के बाद उन्हें रविवार को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। इसके साथ, राज्य में अब तक 5,62,401 मरीज संक्रमण मुक्त हो गये हैं। राज्य में कोविड-19 मरीजों की मृत्यु दर 3.13 प्रतिशत है। राज्य में अभी 1,93,548 मरीज इलाजरत हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।