बिहार में 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ का बजट पेश, जानें 10 बड़ी बातें

बिहार में 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ का बजट पेश,  जानें 10 बड़ी बातें

बिहार में आज बजट पेश किया गया। अगले वित्त वर्ष के लिए चार हजार 671 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है। युवा शक्ति बिहार के तहत पुराने और नये आईटीआई संस्थानों को आधुनिक बनाया जाएगा और हर जिले में मेगा स्किल सेंटर खोला जाएगा।

बिहार विधानसभा में नई सरकार का पहला बजट पेश किया गया। उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ का बजट पेश किया है। पिछले साल के मुकाबले ये बजट 6 हजार करोड़ ज्यादा है।  इसके साथ ही सात निश्चय पार्ट-2 योजना की शुरुआत की गई है। अगले वित्त वर्ष के लिए चार हजार 671 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है। युवा शक्ति बिहार के तहत पुराने और नये आईटीआई संस्थानों को आधुनिक बनाया जाएगा और हर जिले में मेगा स्किल सेंटर खोला जाएगा। आइए जानें बिहार बजट की बड़ी बातें। 

  • अगले 5 वर्षों के लिए सात निश्चय पार्ट-2 लाया जाएगा।
  • सात निश्चय के लिए 4 हजार 671 करोड़ का प्रवाधान किया गया।
  • आईटीआई और पॉलिटेक्निक की गुणवत्ता बढ़ाने पर सरकार का जोर होगा।
  • ट्रेनिंग पर जोर, हल जिले में मेगा स्किल सेंटर खोला जाएगा।
  • नेटवर्किंग, आईटी समेत कई ट्रेड में ट्रेनिंग दी जाएगी। 
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लिए 110 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है। 
  • 20 लाख से ज्यादा रोजगार सृजित किए जाएंगे। 
  • प्रमंडलों में टूल रूम और ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना की जाएगी।
  • 10वीं और 12वीं पास छात्रों को ट्रेनिंग दी जाएगी। 
  • राजगीर में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना होगी।   

इसे भी पढ़ें: LJP को बड़ा झटका, चिराग की MLC बीजेपी में शामिल

नीतीश बोले- सभी कामों को आगे बढ़ाना है

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उपमुख्यमंत्री ने बजट पेश किया है। बजट में स्वास्थ्य और शिक्षा पर और ज्यादा पैसा खर्च करने की बात कही गई है। बजट में हर क्षेत्र के बारे में ख्याल रखा है। कोरोना के कारण दुनिया की आर्थिक स्थिति पर असर पड़ा है उसके बावजूद भी हम सभी कामों को आगे बढ़ाना चाहते हैं।

बिहार का बजट फेल: तेजस्वी 

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार सरकार कोर्ट के आदेश के बाद भी नियुक्ति पत्र नहीं देती।  20 लाख रोज़गार का सृजन करेंगे उसका क्या ब्लूप्रिंट है। कैसे देंगे? बिहार में उद्योग नहीं लगेंगे तो रोज़गार कहां से आएगा। पलायन रोकने पर कोई चर्चा नहीं की गई है। हर तरह से बिहार सरकार का बजट फेल है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...