चिराग पासवान को लगा बड़ा झटका, लोजपा के 208 नेता जदयू में हुए शामिल

JDU
जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आर सी पी सिंह ने जदयू के प्रदेश मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान लोजपा के प्रदेश महासचिव केशव सिंह सहित पासवान की पार्टी के 208 नेताओं के जदयू में शामिल होने की घोषणा की।

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आर सी पी सिंह ने चिराग पासवान की पार्टी लोजपा के 208 नेताओं के जदयू में शामिल होने का दावा करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी पार्टी समाजवादी विचारधारा पर चलने वाली देश की एकमात्र पार्टी है जिसमें परिवारवाद और वंशवाद की कोई जगह नहीं। सिंह ने जदयू के प्रदेश मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान लोजपा के प्रदेश महासचिव केशव सिंह सहित पासवान की पार्टी के 208 नेताओं के जदयू में शामिल होने की घोषणा की। 

इसे भी पढ़ें: नीतीश के खास मंत्री से कन्हैया ने की मुलाकात, निंदा प्रस्ताव के बाद भाकपा से 'आजादी' लेकर जदयू में होंगे शामिल? 

उन्होंने कहा कि अगर आपमें प्रतिभा है, आप दल के प्रति निष्ठावान हैं और मेहनत से अपना काम करते हैं तो जदयू में किसी भी पद को पा सकते हैं। सिंह ने कहा, ‘‘हमारे नेता नीतीश कुमार ने अपने कार्यों से बिहार को नई पहचान दी है। सेवा ही उनका धर्म और बिहार ही उनका परिवार है। हमें उनके आदर्शों पर चलकर बिहार का गौरव बढ़ाना है।’’ इस बीच, लोजपा के सासंद चंदन सिंह ने यहां अपने पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं से कहा कि लोजपा पूरी तरह से अटूट और एकजुट है और कुछ तथाकथित नेता लोजपा से निकाले जाने के बाद अब जदयू के गोद में चले गए हैं।

इसे भी पढ़ें: परिवर्तन की राह पर बिहार भाजपा, पुराने से ज्यादा नए चेहरों को दिया जा रहा मौका 

उन्होंने कहा कि पिछले बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा ने सत्ता का मोह त्याग कर ‘बिहार पहले बिहारी पहले’ की बात की और अकेले चुनाव लड़ने का फैसला लिया जिसके बाद ये ‘‘कमजोर‘‘ और ‘‘गद्दार’’ नेता भाग खड़े हुए। पिछले साल संपन्न हुए बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश के नेतृत्व को अस्वीकार्य करने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आस्था व्यक्त करने वाले चिराग पासवान की पार्टी लोजपा के सांसद चंदन ने कहा कि इन तथाकथित नेताओं ने ‘बिहार पहले बिहारी पहले’ से ‘‘गद्दारी’’ कर बीते चुनाव में जदयू के प्रत्याशियों का साथ दिया, लेकिन जनता ने जदयू को सबक सिखाया जिसके बाद पार्टी ने इन ‘‘गद्दार’’ नेताओं को लोजपा से बाहर निकाल दिया। उन्होंने कहा कि ये वो लोग हैं जो आजतक वार्ड स्तर का भी चुनाव नहीं जीत सके हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़