महाराष्ट्र में अबतक 22 पुलिसकर्मियों की कोविड-19 से मौत, 2,095 संक्रमित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2020   15:43
महाराष्ट्र में अबतक 22 पुलिसकर्मियों की कोविड-19 से मौत, 2,095 संक्रमित

अधिकारी ने कहा कि कुल संक्रमित पुलिसकर्मियों में से 236 अधिकारी हैं जबकि 1,859 अन्य कांस्टेबुलरी रैंक के कर्मचारी हैं। सभी का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने अभी तक कम से कम 22 पुलिसकर्मियों की जान ले ली है। यह बात एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को कही। अधिकारी ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 130 से अधिक पुलिसकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। इसके साथ ही संक्रमित पुलिसकर्मियों की कुल संख्या बढ़कर 2,095 हो गई है। उन्होंने कहा, ‘‘कुल संक्रमित पुलिसकर्मियों में से 236 अधिकारी हैं जबकि 1,859 अन्य कांस्टेबुलरी रैंक के कर्मचारी हैं। सभी का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।’’ उन्होंने कहा कि अभी तक 75 अधिकारी और 822 कांस्टेबुलरी रैंक के कर्मी संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें: सावधान ! दोस्त और रिश्तेदारों के नाम पर हो रही ऑनलाइन धोखाधड़ी 

अधिकारी के अनुसार, लॉकडाउन के दौरान पुलिसकर्मियों पर हमले की 254 घटनाएं हुईं और इन मामलों के संबंध में अभी तक 833 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। उन्होंने कहा, ‘‘लॉकडाउन के दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा 40 से अधिक स्वास्थ्य पेशेवरों पर भी हमले किये गए।’’ उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस ने लॉकडाउन आदेश का उल्लंघन करने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कम से कम 1,16,670 मामले दर्ज किये हैं जिसमें 23,314 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कम से कम 705 लोगों का पता लगाया है जिन्होंने घर पर पृथक रहने के नियम का उल्लंघन किया। इस आंकड़े में मुम्बई शामिल नहीं है।  

इसे भी पढ़ें: NCP ने महाराष्ट्र सरकार को स्थिर और मजबूत बताया, 5 साल का कार्यकाल करेगी पूरा 

उन्होंने कहा कि राज्य भर में पुलिस नियंत्रण कक्षों को कोरोना वायरस महामारी के संबंध में करीब 96,700 कॉल आयीं। अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने लॉकडाउन अवधि के दौरान अवैध परिवहन के 1,323 अपराध दर्ज किये और 75,813 वाहन जब्त किये हैं। विभिन्न अपराधों के लिए पुलिस द्वारा 5.75 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।