जम्मू कश्मीर में भीषण मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, जवान शहीद, दो पत्थरबाज भी मारे गये

By सुरेश डुग्‍गर | Publish Date: Dec 15 2018 12:25PM
जम्मू कश्मीर में भीषण मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, जवान शहीद, दो पत्थरबाज भी मारे गये
Image Source: Google

मोस्ट वॉन्टेड आतंकी जहूर ठोकर पहले सेना में था और 2016 में आतंक की राह पर चल पड़ा था। इस एनकाउंटर के बाद इलाके के युवाओं ने सुरक्षा बलों पर पथराव शुरू कर दिया। इस झड़प में दो स्थानीय नागरिकों की मौत की खबर है।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच शनिवार सुबह मुठभेड़ शुरू हो गई। जानकारी के अनुसार, इस मुठभेड़ में अभी तक तीन आतंकवादी मारे गए हैं। जबकि अभियान में एक जवान शहीद हो गया है। यह मुठभेड़ अब भी जारी है। मारे गए आतंकी की पहचान वाटेंड जहूर ठोकर उर्फ फौजी के रूप में हुई है। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेरा हुआ है। मुठभेड़ स्‍थल पर पत्‍थरबाजों पर सुरक्षा बलों की गोलीबारी में दो नागरिकों की भी मौत हो चुकी है।

 
मोस्ट वॉन्टेड आतंकी जहूर ठोकर पहले सेना में था और 2016 में आतंक की राह पर चल पड़ा था। इस एनकाउंटर के बाद इलाके के युवाओं ने सुरक्षा बलों पर पथराव शुरू कर दिया। इस झड़प में दो स्थानीय नागरिकों की मौत की खबर है। एहतियातन इलाके में इंटरनेट और बारामूला-बनिहाल रेल सेवा को स्थगित कर दिया गया है।


 
सुरक्षा बलों को पुलवामा के खारपुरा के एक सेब बागान में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने शनिवार सुबह इलाके को घेर कर तलाशी अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकियों ने खुद को घिरा हुआ पाकर फायरिंग शुरू कर दी, जिसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए सुरक्षा बल के जवानों ने तीन आतंकियों को मार गिराया।
 
 


शनिवार सुबह पुलवामा जिले के खारपुरा में सुरक्षा बलों ने आतंकियों के मौजूद होने की सूचना के आधार पर कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन शुरू किया। इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में सुरक्षा बलों ने हिज्बुल कमांडर जहूर समेत तीन आतंकियों को मार गिराया है। जहूर ठोकर 173 टेरीटोरियल आर्मी का सदस्य था और 2016 में सर्विस रायफल के साथ भागकर आतंकी बना था। फिलहाल, तीनों आतंकियों का शव नहीं बरामद हुआ है। सर्च ऑपरेशन चल रहा है।
 
गौरतलब है कि घाटी में सुरक्षा बलों के जवान लगातार आतंक विरोधी अभियान छेड़े हुए हैं। पिछले हफ्ते सोपोर में सुरक्षा बलों ने दो आतंकी मार गिराए गए थे। इस साल कश्मीर में करीब 269 आतंकी मारे गए हैं, जिसमें ज्यादातर आतंकी स्थानीय हैं।
 


 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video