दिल्ली में इस साल नौ अक्टूबर तक डेंगू के 480 मामले, अक्टूबर में 139 मामले

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 11, 2021   15:45
दिल्ली में इस साल नौ अक्टूबर तक डेंगू के 480 मामले, अक्टूबर में 139 मामले

निकाय अधिकारियों की ओर से जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार इस साल सितंबर महीने में कुल 217 मामले सामने आए जो पिछले तीन वर्षों के दौरान इस महीने के आंकड़ों से ज्यादा हैं।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में इस साल नौ अक्टूबर तक डेंगू के कम से कम 480 मामले सामने आए हैं, जिनमें से करीब 140 मरीज अक्टूबर में मिले हैं। सोमवार को जारी एक रिपोर्ट से यह जानकारी मिली। दो अक्टूबर तक कुल मामलों की संख्या 341 थी। पिछले एक सप्ताह में करीब 140 मामले सामने आए हैं। इस साल दिल्ली में सामने आए कुल मामलों में से 139 मामले इस महीने नौ अक्टूबर तक सामने आए हैं। निकाय अधिकारियों की ओर से जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार इस साल सितंबर महीने में कुल 217 मामले सामने आए जो पिछले तीन वर्षों के दौरान इस महीने के आंकड़ों से ज्यादा हैं।

इसे भी पढ़ें: इन दिनों विवादों में चल रहे लखीमपुर के मिश्र पिता-पुत्र का यह है इतिहास, दर्ज हो चुका है हत्या का मामला

मच्छरों होने वाली इस बीमारी पर सोमवार को जारी निकाय की एक रिपोर्ट में बताया गया कि इस साल नौ अक्टूबर तक डेंगू के 480 मामले सामने आए, जो कि 2018 के बाद से इस अवधि के दौरन सबसे ज्यादा हैं। पिछले तीन वर्षों में एक जनवरी से नौ अक्टूबर के बीच के आंकड़े 316 (2020), 467 (2019), 830 (2019) थे। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की रिपोर्ट के अनुसार, 2020 में कुल 1,072 मामले सामने आए थे और एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। निकाय शहर में डेंगू के मामलों का आंकड़ा जमा करने के लिए नोडल एजेंसी है। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की ओर से 22 सितंबर को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले साल सितंबर में 188 और 2019 में 190 मामले सामने आए थे। इससे पहले के वर्षों में 2018 में 374, 2017 में 1,103, 2016 में 1,362 और 2015 में 6,775 मामले सामने आए थे।

इसे भी पढ़ें: नेशनल कॉन्फ्रेंस से इस्तीफा देने के बाद भाजपा में शामिल हुए देवेंद्र राणा, सुरजीत सलाथिया

विभाग ने बताया कि शहर में इस साल डेंगू से अब तक किसी व्यक्ति की मौत नहीं हुई। रिपोर्ट के अनुसार, अगस्त में डेंगू के 72 मामले सामने आए। डेंगू के मच्छर साफ और स्थिर पानी में पनपते हैं जबकि मलेरिया के मच्छर गंदे पानी में पनपते हैं। डेंगू के मामले सामान्य तौर पर जुलाई से नवंबर के बीच सामने आते हैं लेकिन यह अवधि मध्य दिसंबर तक भी हो सकती है। निकाय की रिपोर्ट के अनुसार, इस साल नौ अक्टूबर तक मलेरिया के 127 और चिकनगुनिया के 62 मामले सामने आए। इस साल डेंगू के मामले जनवरी में शून्य, फरवरी में दो, मार्च में पांच, अप्रैल में 10, मई में 12, जून में सात और जुलाई में 16 थे।

रिपोर्ट के अनुसार इससे पहले के वर्षों में डेंगू के 2016 में 4,431, 2017 में 4,726, 2018 में 2,798, 2019 में 2,036 और 2020 में 1,070 मामले सामने आए थे। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सितंबर की शुरुआत में संवाददाताओं से कहा था कि दिल्ली सरकार सतर्क है और डेंगू के मामलों के मद्देनजर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।