70 साल की महिला ने दिया बच्चे को जन्म, शादी के 54 साल बाद घर में आई खुशियां

baby
common creative
निधि अविनाश । Aug 09, 2022 3:52PM
अलवर जिले में 70 साल की महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया है।महिला ने आईवीएफ तकनीक से दपंत्ति के घर बेटे का आगमन हुआ है। डॉक्टरों ने बताया कि महिला की उम्र को देखते हुए उनके गर्भवती होने की कई आशंकाये है लेकिन सब कुछ ठीक रहा और महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

राजस्थान के अलवर जिले में 70 साल की महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया है। बता दें कि महिला के पति की उम्र 75 साल की है और दोनों की शादी को 54 साल हो गए है। लेकिन दंपत्ति का कोई भी संतान नहीं है। इसी को देखते हुए महिला ने आईवीएफ तकनीक से दपंत्ति के घर बेटे का आगमन हुआ है। डॉक्टरों ने बताया कि महिला की उम्र को देखते हुए उनके गर्भवती होने की कई आशंकाये है लेकिन सब कुछ ठीक रहा और महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

इसे भी पढ़ें: देख रहा है ना बिनोद! साष्टांग दंडवत से अबाउट टर्न तक, अंतरात्मा की आवाज पर फिर से सत्ता शरीर बदलने वाली है

अलवर के इंडो आईवीएफ टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर के साइंटिफिक डायरेक्टर और एंब्रॉयोलॉजिस्ट डॉ पंकज गुप्ता ने बताया की चंद्रावतीकी उम्र 70 साल है और गोपी सिंह झुंझुनूं की उम्र 75 साल और शादी के बाद से दोनों का बच्चा नहीं हुआ जिससे वह काफी दुखी थे। कई जगह इलाज कराने के बावजूद कुछ नहीं हो पाया लेकिन समय बदला और अब दंपत्ति की झोली में खुशियां आ गई है। बता दें कि चंद्रावती देवी 9 महीने पहले आईवीएफ प्रक्रिया से तीसरे प्रयास में गर्भवती हुई लेकिन डॉक्टरों को डर था कि बढ़ती उम्र को देखते हुए सफल डिलीवरी हो पाएगी या नहीं। लेकिन सोमवार को सब संभव हो गया और मां ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया।

इसे भी पढ़ें: बिहार में लगेगा राष्ट्रपति शासन? आरजेडी ने कहा- भाजपा को देंगे करारा जवाब

जानकारी के लिए बता दें कि 2022 में भारत की संसद से एक कानून पास हुआ था जिसके मुताबिक अब 50 साल से ऊपर की महिला और पुरुष को कोई भी आईवीएफ निसंतानता केंद्र इलाज नहीं दे पाएंगे और ना ही वे लोग अधिक उम्र में इलाज ले पाएंगे। हालांकि, दंपत्ति ने अपना इलाज इस कानून के आने से पहले ही कर लिया था। गोपी सिंह रिटायर फौजी है।

अन्य न्यूज़