आंध्र प्रदेश में संक्रमण के 82 ताजा मामले, अब तक 1,259 व्यक्ति संक्रमित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2020   12:57
आंध्र प्रदेश में संक्रमण के 82 ताजा मामले, अब तक 1,259 व्यक्ति संक्रमित

बुलेटिन में बताया गया कि कुर्नूल में मंगलवार को 12 और गुंटूर में 10 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली है। राज्य में अब कोविड-19 के कुल 970 सक्रिय मामले हैं। बुलेटिन में बताया कि पिछले 24 घंटे में 5,783 नमूनों की जांच हुई।

अमरावती। आंध्र प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 82 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद राज्य में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 1,259 तक पहुंच गई है। सरकारी बुलेटिन में बताया गया है कि राज्य में लगातार पिछले चार दिन में कोविड-19 से किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है। राज्य में इससे मरने वालों की संख्या 31 है। पिछले 24 घंटे में मंगलवार सुबह नौ बजे तक 23 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है जिसके बाद स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा राज्य में 258 तक पहुंच गया है। आंध्र प्रदेश में सबसे प्रभावित जिला कुर्नूल है जहां ताजा 40 नए मामले आने के साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 332 है। गुंटूर जिले में 17 और कृष्णा जिले में 13 मामले सामने आने के बाद यहां कुल संक्रमितों की संख्या क्रमश: 254 और 223 हो गई है।

इसे भी पढ़ें: देश में कोरोना वायरस से अब तक 934 लोगों की मौत, 29,435 व्यक्ति संक्रमित 

बुलेटिन में बताया गया कि कुर्नूल में मंगलवार को 12 और गुंटूर में 10 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली है। राज्य में अब कोविड-19 के कुल 970 सक्रिय मामले हैं। बुलेटिन में बताया कि पिछले 24 घंटे में 5,783 नमूनों की जांच हुई। अब तक राज्य में 80,334 नमूनों की जांच हो चुकी है जिनमें से 79,075 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। राज्य सरकार का कहना है कि प्रति 10 लाख की जनसंख्या पर 1,400 से ज्यादा जांच करके कोविड-19 जांच के मामले में राज्य देश में शीर्ष पर है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आने के पीछे जांच की तेज दर है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।