मेरठ : लैंड रिकार्ड के अनुसार छावनी क्षेत्र की 8892 एकड़ जमीन की होगी खोज,स्थापित होंगे बाउंड्री पिलर

मेरठ छावनी
Rajeev Sharma । Aug 24, 2021 2:59PM
मेरठ छावनी क्षेत्र की 8892 एकड़ जमीन की खोज की जाएगी । जमीन पर अतिक्रमण है या अवैध कब्जा इसकी जांच की जाएगी। अवैध कब्जा मुक्त कराया जाएगा। अतिक्रमण हटाया जाएगा। इसके साथ ही छावनी क्षेत्र की जमीन के चिह्नाकन के लिए सर्वे ऑफ इंडिया-1973 के तहत 111 बाउन्ड्री पिलर भी खड़े किए जाएंगे।

मेरठ छावनी क्षेत्र की 8892 एकड़ जमीन की खोज की जाएगी । जमीन पर अतिक्रमण है या अवैध कब्जा इसकी जांच की जाएगी। अवैध कब्जा मुक्त कराया जाएगा। अतिक्रमण हटाया जाएगा। इसके साथ ही छावनी क्षेत्र की जमीन के चिह्नाकन के लिए सर्वे ऑफ इंडिया-1973 के तहत 111 बाउन्ड्री पिलर भी खड़े किए जाएंगे।

सोमवार को रक्षा संपदा अधिकारी हरेन्द्र सिंह ने छावनी क्षेत्र की सीमाओं पर लगे बाउंड्री पिलर 48, 51 और 54 का निरीक्षण किया। इसी दौरान उन्होंने पाया कि बड़ी संख्या में छावनी क्षेत्र के पिलर गायब हैं। 1973 के तहत 111 बाउंड्री पिलर थे, जिसमें 36 तो अब भी ठीक हैं। 13 क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। 19 की मरम्मत की गई है। 38 बाउन्ड्री पिलर मौके पर मौजूद नहीं हैं। इसके लिए जल्द पिलर को अपने मूल स्थान पर लगाने के आदेश दिए। जिससे रक्षा भूमि को सुरक्षित रखा जा सके। सर्वे और जांच के आधार पर उन सभी को स्थापित कराया जाएगा।  बाउंड्री पिलर के आसपास अतिक्रमण होने पर हटाया जाएगा। अतिक्रमण न हटाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए स्टेशन कमांडर से मदद ली जाएगी ताकि डिफेन्स लैंड को सुरक्षित किया जाए।इससे पहले वह बंगलों में रहने वाले लोगों का सत्यापन करने के निर्देश दे चुके हैं।

  लैंड रिकार्ड के अनुसार मेरठ कैंट देश की प्रथम श्रेणी छावनी में दर्ज है। इसका कुल रकबा 8892 एकड़ है। सबसे अधिक डिफेन्स का ए-1 लैंड 6935 एकड़ रिकार्ड में दर्ज है। सिविल एरिया का क्षेत्र मात्र 371 एकड़ ही है। डीईओ के अनुसार अब डिफेन्स लैंड की एक-एक इंच जमीन की जांच कराई जाएगी। रक्षा संपदा के अधिकारियों, कर्मचारियों को छावनी क्षेत्र के सभी बाउन्ड्री पिलर को मूल स्थान पर स्थापित करने के लिए सर्वे का निर्देश दिया गया है।वहीं, कैंट बोर्ड सीईओ से भी इस संबंध में संपर्क किया गया है।  सोमवार को निरीक्षण में डीईओ के साथ एसडीओ मनीष पाल, अमन शर्मा, धनेश शर्मा, कपिल आदि मौजूद रहे।

इस तरह है मेरठ छावनी की डिफेन्स लैंड

जमीन का प्रकार रकबा

ए-1 6935 एकड़

बी-1 171.71 एकड़

बी-2 34.29 एकड़

बी-3 555 एकड़

बी-4 89.30 एकड़

सी क्लास 166 एकड़

निजी भूमि 8.52 एकड़

सिविल एरिया 371 एकड़

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़