कुलगाम में मतदान के दौरान हिंसा, महज 9.5 प्रतिशत हुई वोटिंग

9-5-percentage-polling-in-kulgam
सुरेश डुग्गर । Apr 29, 2019 7:02PM
अनंतनाग-पुलवामा संसदीय सीट के लिए दूसरे चरण में जिला कुलगाम में लगभग साढ़े नौ प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर साबित कर दिया कि जिहादी तत्व व पाकिस्तान समर्थक जो भी करें।

जम्मू। देश में लोकसभा चुनावों के इतिहास में पहली बार जिस अनंतनाग संसदीय सीट पर तीन टुकड़ों में मतदान हो रहा है उसके दूसरे टुकड़े में कुलगाम में मतदान के दौरान निराश किया है। कुल नौ परसेंट मतदान हुआ जबकि 6 दिन पहले आतंक का गढ़ माने जाने वाले अनंतनाग जिले में 13 प्रतिशत वोटिंग हुई थी। इसी सीट के लिए तीसरे टुकड़े का मतदान अब 6 मई को दो जिलों में होना है। यह बात अलग है कि हिंसा, बंद और चुनाव बहिष्कार के बीच सोमवार को अनंतनाग-पुलवामा संसदीय सीट के लिए दूसरे चरण में जिला कुलगाम में लगभग साढ़े नौ प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर साबित कर दिया कि जिहादी तत्व व पाकिस्तान समर्थक जो भी करें, लोकतंत्र को जिंदा रखने के लिए कश्मीरी अवाम अपनी जान की परवाह नहीं करता। सबसे ज्यादा मतदान नूराबाद विधानसभा क्षेत्र में और सबसे कम होमशालीबुग में हुआ है।

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में किसकी होगी जीत- एक तरफ चुनाव विरोधी दुष्प्रचार, दूसरी तरफ मतदाता

इस दौरान हुई हिंसक झड़पों में 9 पत्थरबाजों के अलावा पांच सुरक्षाकर्मी भी जख्मी हुए हैं। लेकिन संबधित अधिकारियों ने अधिकारिक तौर पर न घायलों की पुष्टि की और न किसी जगह प्रदर्शनकारियों पर खदेड़ने के लिए हवाई फायरिंग की बात मानी है। बुगाम और कोयमू में चुनाव बहिष्कार समर्थक तत्वों ने भड़काऊ नारेबाजी करते हुए मतदान केंद्रों पर पथराव करते हुए भीतर दाखिल होने का प्रयास किया। लेकिन वहां तैनात सुरक्षाबलों ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हिंसक तत्वों को वहां से खदेड़ा। पथराव कर रही भीड़ पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों को लाठियों और आंसूगैस का सहारा लेना पड़ा। 

इसे भी पढ़ें: कश्मीर में ऑपरेशन ऑल आउट जारी, अनंतनाग में हिजबुल के 2 आतंकी ख़ाक

गौरतलब है कि अनंतनाग-पुलवामा देश में सबसे ज्यादा संवेदनशील कहे जाने वाले लोकसभा क्षेत्रों में एक है। यह देश का पहला ऐसा संसदीय क्षेत्र है जिसमें तीन चरणों में मतदान कराया जा रहा है। जिल अनंतनाग में गत 23 अप्रैल को पहले चरण का मतदान हुआ था, आज दूसरे चरण के तहत चार विधानसभा क्षेत्रों पर आधारित जिला कुलगाम में मतदान कराया गया है। तीसरे चरण में पुलवामा व शोपियां में छह मई को मतदान होगा। आतंकियों और अलगाववादियों ने लोगों को मतदान के बहिष्कार का फरमान सुना रखा था। कुलगाम में सोमवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान में बाधा डाल रहे हिंसक तत्वों को खदेड़ने के लिए सुरक्षाबलों को कोयमू और बुगाम में बल प्रयोग करना पड़ा। हिंसक झड़पों में दो लोगों के जख्मी होने की सूचना है।

अन्य न्यूज़