पुडुचेरी में कोरोना वायरस के 922 नए मामले, 23 मरीजों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 24, 2021   14:55
पुडुचेरी में कोरोना वायरस के 922 नए मामले, 23 मरीजों की मौत

पुडुचेरी में कोरोना वायरस के 922 नए मामले आने से सोमवार को संक्रमितों की संख्या बढ़कर 96,982 हो गयी। स्वास्थ्य विभाग के निदेशक एस मोहन कुमार ने बताया कि सोमवार सुबह 10 बजे तक पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 23 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,382 हो गयी है।

पुडुचेरी। पुडुचेरी में कोरोना वायरस के 922 नए मामले आने से सोमवार को संक्रमितों की संख्या बढ़कर 96,982 हो गयी। स्वास्थ्य विभाग के निदेशक एस मोहन कुमार ने बताया कि सोमवार सुबह 10 बजे तक पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 23 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,382 हो गयी है। उन्होंने बताया कि 13 लोग पहले से किसी रोग से ग्रस्त नहीं थे और मृतकों की उम्र 39 से 89 वर्ष के बीच थी।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान में आए भारतीय उच्चायोग के 12 अधिकारियों को परिवार सहित Quarantine रहने का आदेश

पुडुचेरी में 21 जबकि कराईकल और यानम में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। पिछले 24 घंटे में 7674 नमूनों की जांच की गयी और संक्रमण दर 12.01 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में विभिन्न अस्पतालों से 1915 मरीजों को छुट्टी दे दी गयी।

इसे भी पढ़ें: यूपी चुनाव भाजपा के लिए बड़ी चुनौती, संघ के साथ हुई बैठक, मोदी-शाह भी रहे मौजूद

पुडुचेरी में 15,835 मरीज उपचाराधीन हैं। इनमें से 1,968 मरीज अस्पतालों में और 13,867 मरीज गृह पृथक-वास में हैं। कुमार ने बताया कि पुडुचेरी में अब तक 9.89 लाख नमूनों की जांच की गयी है और इनमें से 8.63 नमूनों में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई। स्वास्थ्य विभाग के निदेशक ने बताया कि 34,234 स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम मोर्चे के 21,044 कर्मियों को टीके की खुराक दी जा चुकी है। वहीं वरिष्ठ नागरिकों और 45 साल से ज्यादा की उम्र श्रेणी में 1,37,400 लोगों को कोविड-19 रोधी टीकों की खुराकें लग चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...