आप ने की जेटली के इस्तीफे सहित माल्या के खिलाफ श्वेत पत्र लाने की मांग

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Sep 14 2018 8:05AM
आप ने की जेटली के इस्तीफे सहित माल्या के खिलाफ श्वेत पत्र लाने की मांग
Image Source: Google

शराब कारोबारी विजय माल्या को देश से भागने में कथित तौर पर मदद करने का आरोप लगाते हुए आप ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को लोगों से बृहस्पतिवार को माफी मांगने को कहा।

नयी दिल्ली। शराब कारोबारी विजय माल्या को देश से भागने में कथित तौर पर मदद करने का आरोप लगाते हुए आप ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को लोगों से बृहस्पतिवार को माफी मांगने को कहा। माल्या ने बुधवार को कहा था कि उसने भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री से मुलाकात की थी और अपने बकाए (रिण) का निपटारा करने की पेशकश की थी। हालांकि, जेटली ने इसे झूठ करार देते हुए खारिज कर दिया है।

माल्या 2016 में जिन परिस्थितियों के तहत देश से भागा था, उस पर आप ने एक श्वेत पत्र लाने की भी मांग की है। आप के वरिष्ठ नेता दिलीप पांडे ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘सवाल यह है कि क्या सौदा हुआ था। माल्या ने भाजपा या जेटली या मोदीजी को क्या फायदा पहुंचाया।’ जेटली और माल्या के बीच संबंध पर सवाल उठाते हुए आप नेता ने कहा कि जनता दल (एस) और भाजपा ने शराब कारोबारी को दूसरी बार 2010 में राज्य सभा पहुंचने में मदद की।

उन्होंने कहा, ‘जेटली कर्नाटक में भाजपा प्रभारी थे, जब माल्या 2010 में राज्य से राज्य सभा के लिए निर्वाचित हुए थे।’ पांडे ने कहा कि जेटली को देश के लोगों से विश्वासघात करने को लेकर माफी मांगनी चाहिए और अपने पद से फौरन ही इस्तीफा देना चाहिए। आप के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता ने कहा कि माल्या के दावे ने बहुत बड़ा सवाल पैदा किया है। वह किन परिस्थितियों में देश छोड़ कर भागा उसका खुलासा करने के लिए उसे एक श्वेत पत्र लाना चाहिए।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video