अचीवर्स जंक्शन चैनल ने प्रथम स्थापना दिवस समारोह को सफलता पूर्वक मनाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 31, 2021   16:59
अचीवर्स जंक्शन चैनल ने प्रथम स्थापना दिवस समारोह को सफलता पूर्वक मनाया

गोरखपुर:- दुनिया के तमाम देशों व क्षेत्रों के अचीवर्स की कहानी कहने के लिए लोकप्रिय चैनल अचीवर्स जंक्शन ने अपना प्रथम स्थापना दिवस समारोह सफलता पूर्वक मनाया।

अचीवर्स जंक्शन एक ऐसा चैनल है जो दुनिया के बहुत सारे देशों में देखा जाता है। कोरोना काल में कलाकारों को मंच देकर अचीवर्स जंक्शन ने उन्हें सकारात्मकता दी है। चैनल कला,संस्कृति, साहित्य, स्वास्थ्य, चिकित्सा, लोक साहित्य और ज्योतिष पर एक दर्जन से अधिक कार्यक्रम लगातार दिखाता रहा है। एक वर्ष पूरा होने पर आज का कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम तीन चरणों में सम्पन्न हुआ। 

प्रथम चरण कवि सम्मेलन हुआ जिसमें देश के सुप्रसिद्ध रचनाकारों ने काव्य पाठ करके मनमुग्ध कर दिया। बिहार के प्रसिद्ध कवि सुभाष यादव की सरस्वती वंदना से प्रारम्भ हुए कार्यक्रम में कवयित्री इन्दु शर्मा, संन्ध्या सिन्हा, ब्रजभूषण मिश्र,मनोज कुमार मनोज और सुप्रसिद्ध गजलकार डा साकेत रंजन प्रवीर ने काव्य पाठ किया। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश को लेकर भाजपा में बढ़ी बेचैनी, कई अहम बदलाव के मिल रहे संकेत 

दूसरा सत्र गायक और गायिकाओं के नाम रहा। जिसमें भोजपुरी लोक गायिका देवी ने एक से बढ़कर एक गीत सुनाए।  लोकगीतों व संस्कार गीतों के मर्मज्ञ गायक राकेश श्रीवास्तव ने तो लोकगीतों के साथ कोरोना भागने के लिए भी गीत गायें। इसी क्रम में बंगाल की बाउल गायकी को मंच पर लाने वाले शंभूनाथ सरकार को भी खूब सराहा गया। इसके अतिरिक्त सुप्रसिद्ध गायिका आर्या नंदनी और दुबे सिस्टर्स के नाम से देश दुनिया में प्रसिद्ध शालिनी दुबे और श्रेया दुबे ने अपनी गायकी का जलवा बिखेरा। 

इसे भी पढ़ें: TIKTOK वीडियो बनाना पड़ा भारी, पाकिस्तान की झेलम नदीं में डूबा शख्स

इसके अतिरिक्त एक वैश्विक कार्यक्रम भी किया गया, जिसमें कोरोना काल में  भारत की छवि को बिगाड़ने के मुद्दे पर अमेरिका, इंग्लैंड और भारत के विद्वानों ने चर्चा की।  कार्यक्रम का संचालन अंतर्राष्ट्रीय गीतकार मनोज कुमार मनोज ने किया और संपूर्ण कार्यक्रम की अध्यक्षता बरमिग्घम यूके में रहने वाले प्रसिद्ध कवि और चिकित्सक कृष्ण कन्हैया जी ने की। 

कार्यक्रम में डा. प्रणव रंजन, टीवी कलाकार रीना रानी, बंगलूरू से कवि राकेश कुमार, अरुण तिवारी, अंशु दीक्षांत और हिमांशु सिंह ने भाग लेकर कार्यक्रम को सफल बनाया। इस अवसर पर अचीवर्स जंक्शन के निदेशक मनोज भावुक ने कहा कि "पूरी दुनिया के अचीवर्स जिस स्नेह, सम्मान और सहयोग की भावना के साथ जुड़े हैं, हमारा इरादा बुलंद हुआ है और ये भरोसा जगा है कि अचीवर्स जंक्शन को अचीवर्स का अनिवार्य और सम्मानित अड्डा बना दिया जाएगा।"





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।