पटियाला हिंसा में एक्शन: 6 FIR, तीन गिरफ्तार, जानिए केस में अब तक क्या हुआ

पटियाला हिंसा में एक्शन: 6 FIR, तीन गिरफ्तार, जानिए केस में अब तक क्या हुआ
ANI

पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ़्तार किया है और मामले में 24 और आरोपियों की पहचान की गई है। इनमें से हरीश सिंगला, कुलदीप सिंह और दलजीत सिंह को गिरफ्तार किया जा चुका है। उन्होंने इस पूरी हिंसा का मास्टरमाइंड सिख कट्‌टरपंथी बरजिंदर परवाना को बताया।

पटियाला हिंसा के मामले में पुलिस का एक्शन शुरू हो गया है। पटियाला के आईजी मुखविंदर सिंह छीना ने कहा कि कल पटियाला में जो झड़प हुई उस मामले में पुलिस ने 6 एफआईआर दर्ज़ की हैं। पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ़्तार किया है और मामले में 24 और आरोपियों की पहचान की गई है। इनमें से हरीश सिंगला, कुलदीप सिंह और दलजीत सिंह को गिरफ्तार किया जा चुका है। उन्होंने इस पूरी हिंसा का मास्टरमाइंड सिख कट्‌टरपंथी बरजिंदर परवाना को बताया। खालिस्तानी विरोध मार्च निकालने वाले सिंगला को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

नए आईजी और एसएसपी की तैनाती

सरकार ने तत्काल प्रभाव से पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) पटियाला रेंज, पटियाला के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक का तबादला कर दिया। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुखविंदर सिंह चिन्ना को पटियाला का नया महानिरीक्षक (आईजी-पटियाला रेंज) नियुक्त किया गया है जबकि दीपक पारिक पटियाला के नए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) होंगे और वजीर सिंह को पटियाला का नया पुलिस अधीक्षक नियुक्त किया गया है। राकेश अग्रवाल की जगह चिन्ना को पटियाला रेंज का आईजी बनाया गया हैजबकि पटियाला के एसएसपी के तौर पर पारीक, नानक सिंह का स्थान लेंगे। 

इसे भी पढ़ें: चरमरा रही है पंजाब की कानून-व्यवस्था, राज्य के बाहर ज्यादा समय बिता रहे CM: पटियाला की घटना पर बोले अनुराग ठाकुर

झड़प के बाद हुई शांति समिति की बैठक

पटियाला में दो समुदायों के बीच कल हुई झड़प के बाद शांति समिति की बैठक हुई। पटियाला की उपायुक्त साक्षी साहनी ने बताया, "सभी धर्मों के लोगों के साथ बैठक हुई है। बैठक अच्छी रही है। बैठक में सांप्रदायिक सौहार्द्र बनाए रखने पर ज़ोर दिया गया है।" पटियाला की उपायुक्त साक्षी साहनी ने बताया, "सभी धर्मों के लोगों के साथ बैठक हुई है। बैठक अच्छी रही है। बैठक में सांप्रदायिक सौहार्द्र बनाए रखने पर जोर दिया गया है।"

CM ने कहा-  दो राजनीतिक पार्टियां के वर्कर आपस में लड़े थे

पटियाला की घटना में सीएम भगवंत मान ने कहा कि पटियाला में शांति हो चुकी है इस मामले में शिवसेना, अकाली दल और कांग्रेस के वर्कर थे। ये मामला दो समुदाय का नहीं था बल्कि दो राजनीतिक पार्टियां के वर्कर आपस में लड़े थे। पुलिस अधिकारियों को बदल दिया गया है। वहीं आप के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि इस समय पटियाला में पूरी तरह से शांति बहाल है। पुलिस प्रशासन ने बेहतरीन काम करते हुए वहां शांति बहाल कराया है। भगवंत मान जी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कुछ प्रशासनिक फैसले लिए है। कुछ पुलिस अधिकारी को हटाकर नए लोगों को जिम्मेदारी दी है: हालात और खराब ना हो इसके लिए पुख्ता इंतज़ाम किया गया है। मैं साफ शब्दों में कहना चाहता हूं कि कोई भी शख्स जो पंजाब के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करेगा उसे बख़्शा नहीं जाएगा।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।