पेड़ वाली विवादित टिप्पणी पर जमकर हुआ बवाल, अधीर रंजन चौधरी ने दर्ज कराई शिकायत, बोले- मेरा अकाउंट हैक हुआ था

Congress
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि के मौके पर 'जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है' वाला बयान साझा किया गया था। जिसको कुछ वक्त बाद डिलीट कर दिया गया। पूर्व प्रधानमंत्री के इस बयान को लेकर कांग्रेस की अकसर आलोचना होती है।

नयी दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्ट साझा किया। जिसको लेकर विवाद खड़ा हो गया। हालांकि कुछ देर बाद उस ट्वीट को डिलीट कर दिया और बाद में दावा किया गया कि ट्विटर अकाउंट हैक हुआ था। दरअसल, पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि के मौके पर अधीर रंजन चौधरी के अकाउंट से एक विवादित बयान साझा किया गया था। 

इसे भी पढ़ें: शिवराज के मंत्री का राहुल पर तंज, खाते हो भारत का और गाते हो पाकिस्तान और चीन का 

क्या था अधीर रंजन चौधरी का ट्वीट ?

अधीर रंजन चौधरी के सोशल मीडिया अकाउंट ट्विटर पर पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि के मौके पर 'When a big tree falls, the ground shakes' वाला बयान साझा किया गया था। जिसका हिंदी में मतलब होता है कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है। जिसको कुछ वक्त बाद डिलीट कर दिया गया। पूर्व प्रधानमंत्री के इस बयान को लेकर कांग्रेस की अकसर आलोचना होती है। हालांकि अधीर रंजन चौधरी का कहना है कि उनका ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया गया था।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अधीर रंजन चौधरी ने बताया कि उनका ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया गया था और उन्होंने साउथ एवेन्यू पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है। इससे पहले उन्होंने ट्वीट का खंडन किया था और कहा था कि जो लोग मेरे खिलाफ प्रचार कर रहे हैं, मैं उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने जा रहा हूं। आपको बता दें कि राजीव गांधी की 31वीं पुण्यतिथि के मौके पर उनकी फोटो के साथ पुराना बयान वायरल हो रहा है। जिसकी वजह से कांग्रेस की आलोचना हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: राहुल के बयान पर भाजपा का पलटवार, गौरव भाटिया बोले- मोदी से नफरत करते-करते वो भारत के खिलाफ ही व्यक्तव्य देने लगे 

दरअसल, राजीव गांधी ने अपनी मां इंदिरा गांधी की हत्या के बाद कहा था कि हमें मालूम है कि भारत की जनता को कितना क्रोध है, कितना ग़ुस्सा है और कुछ दिन के लिए लोगों को लगा कि भारत हिल रहा है। जब भी कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती थोड़ी हिलती है। राजीव गांधी के इस बयान को 1984 सिख विरोधी दंगों से जोड़कर देखा गया था।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़