अदनान ने अपनी प्रतिभा से भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाया: केंद्र के समर्थन में उतरे पासवान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 27, 2020   19:52
अदनान ने अपनी प्रतिभा से भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाया: केंद्र के समर्थन में उतरे पासवान

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने गायक अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार दिए जाने के केंद्र सरकार के फैसले का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद, उन्हें 2016 में भारतीय नागरिकता दी गई थी। उन्होंने अपनी प्रतिभा से भारत की प्रतिष्ठा और सम्मान बढ़ाया है। मैं पद्मश्री से सम्मानित किए जाने पर उन्हें बधाई देता हूं।

नयी दिल्ली। भाजपा सहयोगी एवं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने गायक अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार दिए जाने के केंद्र सरकार के फैसले का सोमवार को समर्थन करते हुए कहा कि गायक ने अपनी प्रतिभा से भारत की प्रतिष्ठा बढ़ाई है। लोक जनशक्ति पार्टी के नेता ने इस फैसले की निंदा किए जाने को गलत ठहराते हुए कहा, ‘‘सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद, उन्हें 2016 में भारतीय नागरिकता दी गई थी। उन्होंने अपनी प्रतिभा से भारत की प्रतिष्ठा और सम्मान बढ़ाया है। मैं पद्मश्री से सम्मानित किए जाने पर उन्हें बधाई देता हूं।’’

इसे भी पढ़ें: अदनान को पद्मश्री की आलोचना पर BJP का पलटवार, कहा- वह अत्यधिक हकदार हैं

पासवान ने कहा, ‘‘प्रसिद्ध गायक को पुरस्कार दिए जाने का विरोध करने वालों को भारतीय नागरिकता कानून की जानकारी नहीं है। भारतीय नागरिकता का धर्म से कोई संबंध नहीं है। नागरिकता कानून की आवश्यक शर्तों को पूरा करने वाला हर व्यक्ति भारतीय नागरिक बन सकता है।’’

इसे भी देखें: अब्दुल जब्बार को मरणोपरांत पद्मश्री से किया गया सम्मानित





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।