दूसरे चरण में भी हार के डर से EVM तोड़ने लगी है भाजपा: नवीन पटनायक

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 21 2019 10:50AM
दूसरे चरण में भी हार के डर से EVM तोड़ने लगी है भाजपा: नवीन पटनायक
Image Source: Google

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने ढेंकनाल लोकसभा सीट के अंगुल और तालचेर में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा यह आभास होने के बाद परेशान है कि उसके उम्मीदवार दूसरे चरण में भी हार रहे हैं।

भुवनेश्वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री एवं बीजू जनता दल (बीजद) के अध्यक्ष नवीन पटनायक ने शनिवार को दावा किया कि विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दूसरे चरण के चुनाव में भी हार के भय से ईवीएम तोड़ने पर उतर आयी है। पटनायक 18 अप्रैल को हुए दूसरे चरण के मतदान के दौरान ईवीएम तोड़ने के आरोप में सोरादा से भाजपा उम्मीदवार नीलामी बिसोई की गिरफ्तारी का जिक्र कर रहे थे। पटनायक ने ढेंकनाल लोकसभा सीट के अंगुल और तालचेर में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा यह आभास होने के बाद परेशान है कि उसके उम्मीदवार दूसरे चरण में भी हार रहे हैं। इसीलिए अब भाजपा ईवीएम तोड़ने पर उतर आयी है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: पटनायक ने भाजपा पर चिल्का झील बेचने की साजिश रचने का आरोप लगाया

उन्होंने इससे पहले कहा था कि 11 अप्रैल को पहले चरण में जिन सीटों पर मतदान हुआ है, भाजपा वे सभी हारने जा रही है। पटनायक ने दावा किया कि भाजपा को जनादेश का सम्मान करना नहीं आता है। उन्होंने दोहराया कि किसी भी राष्ट्रीय पार्टी को इस बार बहुमत नहीं मिलने वाला है और क्षेत्रीय पार्टियां सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाएंगी। मुख्यमंत्री ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि एमसीएल और एनटीपीसी जैसी सरकारी कंपनियां ओडिशा से काफी राजस्व कमाती हैं लेकिन राज्य को इसके बदले में सिर्फ धूल और प्रदूषण मिलता है।

इसे भी पढ़ें: अस्का लोकसभा सीट पर द्विपक्षीय मुकाबला, बीजद-भाजपा आमने-सामने



उन्होंने भाजपा नीत केंद्र सरकार पर राज्य के लिये कोयला रॉयल्टी में संशोधन नहीं करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने पूछा कि पांच मिनट में हो सकने वाला कोयला रॉयल्टी संशोधन पिछले पांच साल में क्यों नहीं हो सका? उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार पर कालिया योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली राशि को कथित तौर पर रोकने का भी आरोप लगाया। उल्लेखनीय है कि राज्य में लोकसभा और विधानसभा चुनाव दोनों एकसाथ हो रहे हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video