कानपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 37 नए मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या 144 हो गयी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   10:36
कानपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 37 नए मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या 144 हो गयी

केवल दस घंटे में शाम तक 31 और नये मामले सामने आ गये, जिससे जिले में कुल मामले बढ़कर 144 हो गये। शुक्ला ने बताया कि दिल्ली में हुए तबलीगी जमात के कार्यक्रम में भाग लेकर लौटे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आये लगभग 24 मदरसा छात्रों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

कानपुर। कानपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 37 नए मामले शुक्रवार को सामने आये और इसके साथ ही जिले में इन मामलों की कुल संख्या बढ़कर 144 हो गयी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अशोक शुक्ला ने बताया कि कानपुर में शुक्रवार सुबह छह नए मामले सामने आए थे। इसके बाद, केवल दस घंटे में शाम तक 31 और नये मामले सामने आ गये, जिससे जिले में कुल मामले बढ़कर 144 हो गये। शुक्ला ने बताया कि दिल्ली में हुए तबलीगी जमात के कार्यक्रम में भाग लेकर लौटे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आये लगभग 24 मदरसा छात्रों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 के कारण अब तक 775 की मौत, कुल 24,506 व्यक्ति हुए संक्रमित: स्वास्थ्य मंत्रालय

सीएमओ ने बताया कि दो महिलाएं और एक पुलिस कांस्टेबल भी संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से एक महिला मीरपुर (रेलबाजार) से और दूसरी महिला कुली बाजार से है। उन्होंने बताया कि अधिकांश मामले कुली बाजार इलाके में सामने आए हैं, जो संक्रमण से प्रभावित क्षेत्र (हॉटस्पॉट) है। यहां अब तक लगभग 60 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। 

इसे भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्री बोले, कोविड-19 से मृत्यु दर 3 % और ठीक होने वालों की दर 20 फीसदी से ज्यादा

बाकी मामले रौशन नगर, कर्नलगंज और अनवरगंज के हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कानपुर में अब तक सामने आये 144 मामलों में से नौ मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और तीन लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि बाकी 132 मरीजों का विभिन्न सरकारी अस्पतालों में उपचार किया जा रहा है। शुक्ला ने बताया कि संक्रमित पाए गए लोगों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।