• दलित युवती से दोस्ती के बाद धर्म बदलने का दबाव बनाया, निजी वीडियो वायरल करने की धमकी देकर आरोपी ने कई बार किया दुष्कर्म

युवती ने शिकायत में कहा कि आरोपी ने उसका निजी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया और इस साल 15 जुलाई को उसे धमकाते हुए निकाह करने के नाम पर उस पर धर्म बदलने का दबाव बनाया।

इंदौर। इंदौर में धार्मिक पहचान छिपाकर दलित युवती से दोस्ती के बाद उसके साथ दुष्कर्म के आरोप में 30 वर्षीय व्यक्ति पर मामला दर्ज किया गया है। एमजी रोड पुलिस थाने के प्रभारी डीवीएस नागर ने सोमवार को बताया कि अनुसूचित जाति वर्ग की युवती ने इस व्यक्ति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराते हुए आरोप लगाया है कि आरोपी ने अपनी धार्मिक पहचान छिपाते हुए दिसंबर 2010 में उससे दोस्ती की, जब वह एक कॉल सेंटर में काम करती थी। उन्होंने युवती की शिकायत के हवाले से बताया कि आरोपी अपने दाहिने हाथ में रक्षा सूत्र तथा कड़ा पहनता था और उसने फरवरी 2011 में युवती के घर में घुसकर चाकू की नोक पर उसके साथ उस वक्त कथित तौर पर दुष्कर्म किया, जब वह अकेली थी। 

इसे भी पढ़ें: बकरीद पर योगी सरकार ने जारी किया दिशा-निर्देश, एक साथ 50 लोगों के इकठ्ठा होने पर लगाई रोक

नागर के मुताबिक, युवती ने शिकायत में कहा कि आरोपी ने उसका निजी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया और इस साल 15 जुलाई को उसे धमकाते हुए निकाह करने के नाम पर उस पर धर्म बदलने का दबाव बनाया। उन्होंने बताया कि युवती की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड विधान, अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम और मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 के संबद्ध प्रावधानों के तहत रविवार रात मामला दर्ज किया गया। थाना प्रभारी ने बताया कि मामले में व्यक्ति के खिलाफ युवती के आरोपों की तमाम पहलुओं पर जांच की जा रही है।