महुआ मोइत्रा के बाद डीएमके नेता ने भी बिहारियों को लेकर दिया विवादित बयान, बताया कम बुद्धिमान

महुआ मोइत्रा के बाद डीएमके नेता ने भी बिहारियों को लेकर दिया विवादित बयान, बताया कम बुद्धिमान

विभिन्न समाचार पोर्टल पर प्रकाशित खबर के मुताबिक के नेहरू ने कहा कि बिहारी तमिलों की तुलना में कम बुद्धिमान होते हैं। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता फिर भी तमिलों से नौकरी छीन कर उन्हें दी गई।

तमिलनाडु सरकार में मंत्री और डीएमके नेता केएन नेहरू ने बिहार और बिहारी को लेकर विवादित बयान दिया है। नेहरू ने ऐसा बयान दिया है जिसके बाद आने वाले दिनों में विवाद खड़ा हो सकता है। दरअसल, केएन नेहरू ने बिहार के लोगों पर नस्लीय टिप्पणी की है। विभिन्न समाचार पोर्टल पर प्रकाशित खबर के मुताबिक के नेहरू ने कहा कि बिहारी तमिलों की तुलना में कम बुद्धिमान होते हैं। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता फिर भी तमिलों से नौकरी छीन कर उन्हें दी गई। 

इसे भी पढ़ें: महुआ मोइत्रा ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे को कहा 'बिहारी गुंडा', गर्म हुई बिहार की सियासत

अपने बयान में उन्होंने यह भी कहा कि जब लालू यादव रेल मंत्री पद पर थे तब उन्होंने बिहारियों को खूब नौकरी पर रखा था। केएन नेहरू का यह बयान सोशल मीडिया पर रखो वायरल हो रहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार के नेहरू ने 25 जुलाई को तिरुचिरापल्ली में डीएमके कार्यालय द्वारा आयोजित एक एंप्लॉयमेंट कैंप में भाषण दे रहे थे। इसी भाषण के दौरान के नेहरू ने यह बातें कहीं हैं। इस बयान को लेकर विवाद बढ़ सकता है। हाल में ही भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने तृणमूल कांग्रेस के सांसद महुआ मोइत्रा पर उन्हें बिहारी गुंडा कहने का आरोप लगाया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।