व्यापार के बाद थार पर भी पाकिस्तान ने तोड़ा समझौता

By अभिनय आकाश | Publish Date: Aug 9 2019 3:51PM
व्यापार के बाद थार पर भी पाकिस्तान ने तोड़ा समझौता
Image Source: Google

भारत पाकिस्तान के बीच 18 फरवरी 2006 से चल रही इस रेल में अब तक 4 लाख से अधिक यात्री दोनों ओर से यात्रा कर चुके हैं। बाड़मेर के एक लाख पाक विस्थापित परिवारों का पाकिस्तान से रोटी-बेटी का रिश्ता है। 1965 के युद्ध से पहले भारत-पाकिस्तान के बीच में रेल का संचालन जोधपुर से कराची तक होता था लेकिन 1965 के युद्ध में रेल पटरियां क्षतिग्रस्त होने और दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण स्थितियांहोने से रेलमार्ग को बंद कर दिया गया।

जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद अब से ही बौखलाया पाकिस्तान एक के बाद एक प्रतिक्रियाएं दे रहा है। पहले व्यापारिक साझेदारी तोड़ने की घोषणा के बाद अब थार एक्सप्रेस का भी परिचालन पाकिस्तान ने रोक दिया है। इससे पहले पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस को अगले आदेश तक रद्द कर दिया था। पाकिस्तान ने सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए गुरुवार को वाघा सीमा पर समझौता एक्सप्रेस ट्रेन रोक दी थी जिसके कारण ये यात्री वहां फंसे रहे थे। भारतीय रेलवे ने वाघा से भारत की सीमा में अटारी तक ट्रेन के साथ चलने के लिए चालक दल का एक सदस्य और गार्ड के साथ एक इंजन भेजा था।

बता दें कि भारत पाकिस्तान के बीच 18 फरवरी 2006 से चल रही इस रेल में अब तक 4 लाख से अधिक यात्री दोनों ओर से यात्रा कर चुके हैं। बाड़मेर के एक लाख पाक विस्थापित परिवारों का पाकिस्तान से रोटी-बेटी का रिश्ता है। 1965 के युद्ध से पहले भारत-पाकिस्तान के बीच में रेल का संचालन जोधपुर से कराची तक होता था लेकिन 1965 के युद्ध में रेल पटरियां क्षतिग्रस्त होने और दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण स्थितियांहोने से रेलमार्ग को बंद कर दिया गया। 18 फरवरी 2006 को 41 साल बाद इस रेल को पुन: प्रारंभ किया गया।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video