मैनचेस्टर हमले के बाद ब्रिटेन में भारतीय मिशन ने इकाई स्थापित की

मैनचेस्टर में हुए आतंकी हमले के बाद लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग ने आज प्रतिक्रिया इकाई गठित कर प्रभावित भारतीयों की मदद के लिए कुछ और हेल्पलाइनें शुरू की हैं।

लंदन। मैनचेस्टर में हुए आतंकी हमले के बाद लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग ने आज प्रतिक्रिया इकाई गठित कर प्रभावित भारतीयों की मदद के लिए कुछ और हेल्पलाइनें शुरू की हैं। इस हमले में 22 लोग मारे गए थे। उच्चायोग ने ट्विटर पर एक वक्तव्य में कहा, ‘‘हमले में प्रभावित लोगों के परिवारों और दोस्तों की आगे और मदद करने के लिए हम और हेल्पलाइनें शुरू करेंगे। मैनचेस्टर हमले में घायल कोई भी भारतीय भारत के उच्चायोग की पब्लिक रेस्पांस इकाई से कार्यालय घंटों के बाद के समय में 02076323035 पर संपर्क कर सकते हैं।’’

मैनचेस्टर में अमेरिकी पॉप स्टार एरियाना ग्रांडे के पॉप कॉन्सर्ट में भीड़भाड़ के बीच एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर दिया था। इस हमले में कम से कम 22 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 59 अन्य घायल हो गए थे। सात जुलाई 2005 को लंदन में हुए आतंकी हमले के बाद से यह अब तक का सबसे भयावह आतंकी हमला है। मैनचेस्टर एरिना में पॉप कॉन्सर्ट में आईईडी लेकर पहुंचा अकेला हमलावर भी मारा गया। ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस के चीफ कांस्टेबल इयान होपकिंग्स ने बताया, ‘‘हम इसे आतंकी घटना मानकर चल रहे हैं और हमारा मानना है कि कल रात हुए हमले को भले ही एक ही व्यक्ति ने अंजाम दिया हो लेकिन यह पुष्टि करना हमारी प्राथमिकता है कि वह वाकई में अकेले ही था या फिर इसके पीछे पूरा नेटवर्क है।’’

लंदन में भारतीय उच्चायोग ने सोमवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर आंतकनिरोधी दिवस मनाया था। उस समारोह में ब्रिटेन में भारत के उच्चायुक्त यशवर्धन कुमार सिन्हा ने आतंक निरोधी संकल्प लेते हुए कहा था, ‘‘आतंकवाद निर्दोष जिंदगियों को प्रभावित कर रहा है, ना केवल एक देश में बल्कि पूरी दुनिया को प्रभावित कर रहा है। किसी भी देश को, किन्हीं भी लोगों को आतंकियों को पनाह नहीं देनी चाहिए, आतंकियों को बढ़ावा नहीं देना चाहिए।’’

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़