केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा , बिलासपुर में एम्स वास्तव में राज्य को केंद्र सरकार का एक अमूल्य उपहार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा , बिलासपुर में एम्स वास्तव में राज्य को केंद्र सरकार का एक अमूल्य उपहार

मनसुख मंडाविया ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने सभी देशवासियों को साथ लेते हुए कोरोना के खिलाफ जिस तरह से निर्णायक लड़ाई लड़ी और कोरोना को काबू किया, वह अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है। यदि केंद्र में नरेन्द्र मोदी सरकार नहीं होती तो आज क्या स्थिति होती, इसकी हम केवल कल्पना ही कर सकते हैं। हिमाचल प्रदेश में शत प्रतिशत फर्स्ट डोज का वैक्सीनेशन पहले ही हो चुका है

बिलासपुर ।  केंद्रीय स्वास्थ्य, रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि एम्स वास्तव में राज्य को केंद्र सरकार का एक अमूल्य उपहार है। उन्होंने कहा कि विश्व ने देश की बौद्धिक ताकत को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि नासा में कार्यरत 10 वैज्ञानिकों में से लगभग तीन वैज्ञानिक भारतीय हंै। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत देश की शक्ति को पहचाना और कोरोना वायरस के विरूद्ध स्वदेशी टीका विकसित करने के लिए वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित किया।

 

उन्होंने कहा कि विश्व के 100 देशों को भारत में निर्मित एजिनोमाइसिन और रेमडेसीवीर जैसी दवाओं की आपूर्ति की गई। उन्होंने कहा कि देश में 123 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज तैयार की गई है और अन्य देशों को भी इसका निर्यात किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा अपने वैज्ञानिकों, चिकित्सकों, उद्यमियों पर किए गए विश्वास के कारण ही यह सम्भव हो पाया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने शत प्रतिशत टीकाकरण के अद्वितीय गौरव को हासिल कर देश के अन्य राज्यों का मार्ग प्रशस्त किया है।

 

मनसुख मंडाविया  ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी ने सभी देशवासियों को साथ लेते हुए कोरोना के खिलाफ जिस तरह से निर्णायक लड़ाई लड़ी और कोरोना को काबू किया, वह अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है। यदि केंद्र में  नरेन्द्र मोदी सरकार नहीं होती तो आज क्या स्थिति होती, इसकी हम केवल कल्पना ही कर सकते हैं। हिमाचल प्रदेश में शत प्रतिशत फर्स्ट डोज का वैक्सीनेशन पहले ही हो चुका है और अब सेकंड डोज भी लगभग-लगभग पूरा हो रहा है। मैं इस कार्य के लिए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर, उनकी सरकार और प्रदेश के सभी स्वास्थ्य कर्मियों को दिल से बहुत-बहुत बधाई देता हूँ। 

 

खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस अवसर पर कोविड-19 टीकाकरण से संबंधित एक वृतचित्र भी दिखाया गया। एम्स के कार्य में प्रगति के संबंध में निदेशक एम्स एवं अन्य अधिकारियों द्वारा एक प्रेजेंटेशन भी दी गई।

 

सांसद और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप, जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री डाॅ. राम लाल मारकंडा, ऊर्जा मंत्री सुख राम चैधरी, विधायक, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, विभिन्न बोर्डों और निगमों के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, सचिव स्वास्थ्य अमिताभ अवस्थी, एम्स के अध्यक्ष प्रमोद गर्ग, एम्स बिलासपुर के निदेशक डाॅ. वीर सिंह नेगी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...