अक्षय कुमार SIT के समक्ष हुए पेश, राम रहीम से मुलाकात से किया इंकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2018   19:24
अक्षय कुमार SIT के समक्ष हुए पेश, राम रहीम से मुलाकात से किया इंकार

पंजाब सरकार ने धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी को लेकर फरीदकोट की बेहबल कलां और कोटकपुरा में विरोध कर रहे लोगों पर पुलिस की गोलीबारी की जांच के लिए पांच सदस्यीय एसआईटी का गठन किया है। वर्ष 2015 में हुई इस घटना में दो लोग मारे गये थे।

चंडीगढ़। बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार बुधवार को पंजाब पुलिस के विशेष जांच दल के समक्ष पेश हुए। उन्होंने पंजाब के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के बीच एक बैठक का प्रबंध करने से इंकार किया है। पंजाब सरकार ने धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी को लेकर फरीदकोट की बेहबल कलां और कोटकपुरा में विरोध कर रहे लोगों पर पुलिस की गोलीबारी की जांच के लिए पांच सदस्यीय एसआईटी का गठन किया है। वर्ष 2015 में हुई इस घटना में दो लोग मारे गये थे।

धार्मिक ग्रंथ के पृष्ठ फटे और बिखरे पाये जाने की घटना में कथित तौर पर स्वयंभू बाबा के समर्थक भी शामिल थे। अक्षय कुमार के अधिवक्ता ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि अभिनेता ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के साथ किसी भी तरह के मुलाकात का खंडन किया है। राम रहीम बलात्कार के दो मामलों में 20 साल जेल की सजा काट रहा है। न्यायमूर्ति रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट में अक्षय कुमार के नाम का जिक्र होने के कारण एसआईटी ने अभिनेता से पूछताछ की। आयोग की रिपोर्ट अगस्त में पंजाब विधानसभा में पेश की गई थी। 

इसमें आरोप लगाया गया है कि अभिनेता ने पंजाब में एमएसजी-2 का प्रदर्शन सुनिश्चित करने को लेकर डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के बीच मुलाकात कराई थी। अभिनेता से यहां सेक्टर नौ में पंजाब पुलिस के मुख्यालय में दो घंटा पूछताछ की गई। अभिनेता के वकील संतपाल सिंह सिद्धू ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘उन्होंने एसआईटी से कहा उन्होंने अपने पूरे जीवन में कभी भी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख से मुलाकात नहीं की है। ऐसे में किसी भी बैठक को लेकर कोई सवाल ही नहीं उठता है।’’ उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक हरबन जलाल के डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के समक्ष बैठक को लेकर दिये गये बयान को ‘मनगढंत’ बताया।

सिद्धू ने बताया कि अक्षय कुमार को एसआईटी के समक्ष दुबारा उपस्थित होने के लिए नहीं कहा गया है। एसआईटी पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और शिअद के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल से पहले ही पूछताछ कर चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।