बंगाल में एक जून से खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल, कार्यालयों में पूर्ण उपस्थिति की अनुमति: ममता बनर्जी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 29, 2020   18:11
बंगाल में एक जून से खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल, कार्यालयों में पूर्ण उपस्थिति की अनुमति: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि एक जून से धार्मिक स्थल खोले जा सकते हैं और सरकारी एवं निजी कार्यालयों में पूर्ण उपस्थिति की इजाजत होगी।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पाबंदियों में एक जून से कई छूट देने की घोषणा करते हुए शुक्रवार को कहा कि प्रवासी श्रमिकों के बड़ी तादाद में आने के चलते राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। ममता ने कहा कि एक जून से धार्मिक स्थल खोले जा सकते हैं और सरकारी एवं निजी कार्यालयों में पूर्ण उपस्थिति की इजाजत होगी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री उनकी सरकार से परामर्श किये बगैर, बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों को राज्य में वापस लाये जाने को लेकर पिछले कुछ दिनों से रेलवे की आलोचना कर रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में मंत्री सुजीत बोस कोरोना वायरस से संक्रमित, घर में ही किया गया क्वारंटाइन 

उन्होंने दावा किया, ‘‘यह सामाजिक मेलजोल से दूरी का पालन किये बगैर किया जा रहा है।’’ मुख्यमंत्री ने पूछा, ‘‘क्या भारतीय रेल श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के बजाय ‘कोरोना एक्सप्रेस’ ट्रेनें चला रही है।’’ उन्होंने यह भी कहा कि अन्य राज्यों से लौट रहे प्रवासी श्रमिकों के लिये और अधिक ट्रेन क्यों नहीं चलाई जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।