अमित शाह का अखिलेश पर हमला, कहा- जो जाति और तुष्टीकरण की राजनीति करते हैं, वह विकास नहीं कर सकते

अमित शाह का अखिलेश पर हमला, कहा- जो जाति और तुष्टीकरण की राजनीति करते हैं, वह विकास नहीं कर सकते

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मैं अभी-अभी कैराना से आ रहा हूं। मैं वहां 2013 में भी गया था और 2014 में भी गया था, तब लोगों की आंखों में भय था, आशंकाएं थी, पलायन हो रहा था। आज उन्हीं परिवारों के घर में चाय पीकर उनके चेहरे पर प्रसन्नता और शान्ति देखकर मुझे बड़ा सुकून मिला।

उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है। आज भाजपा के वरिष्ठ नेता और गृह मंत्री अमित शाह कैराना में थे जहां उन्होंने अखिलेश यादव और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि 2017 में आपने यूपी में जो परिवर्तन किया उसने उत्तर प्रदेश को देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना दिया। इस परिवर्तन को जारी रखना है। इसके साथ ही शाह ने यूपी के मतदाताओं से अपील करते हुए कहा कि किसी व्यक्ति को एमएलए, मंत्री या मुख्यमंत्री बनाने के लिए ही वोट मत दीजिएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हर गरीब को सुख मिले, हर व्यक्ति को न्याय मिले, सबका विकास हो, ये समझकर वोट कीजिए।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मैं अभी-अभी कैराना से आ रहा हूं। मैं वहां 2013 में भी गया था और 2014 में भी गया था, तब लोगों की आंखों में भय था, आशंकाएं थी, पलायन हो रहा था। आज उन्हीं परिवारों के घर में चाय पीकर उनके चेहरे पर प्रसन्नता और शान्ति देखकर मुझे बड़ा सुकून मिला। ऊन्होंने कहा कि ये जो परिवर्तन आया है, ये कोई छोटा परिवर्तन नहीं था। एक समय यहां पर गुंडों का राज चलता था, गुंडों के आने के समाचार मिलते ही कप्तान पलायन कर जाते थे। लेकिन आज ये परिवर्तन आया है कि पुलिस के आने से गुंडे पलायन कर जाते हैं। उन्होंने दावा किया कि ये जो कानून का शासन आया है, यही उत्तर प्रदेश के विकास की नींव है। किसी भी राज्य के विकास की पहली शर्त है कि वहां कानून व्यवस्था अच्छी हो।

इसे भी पढ़ें: BJP का हाईटेक रथ तैयार, 403 विधानसभा सीटों पर प्रचार, CM योगी ने दिखाई हरी झंडी

अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और अब देश के विकास के लिए सबका प्रयास के मंत्र को चरितार्थ करते हुए देश और प्रदेश को आगे बढ़ाने का काम किया है। उन्होंने दावा किया कि जो लोग जातिवाद की, तुष्टिकरण की राजनीति करते हैं, वोटबैंक के लिए माफियाओं, गुंडों को खुली छूट देते हैं वो लोग यूपी में विकास नहीं कर सकते। किसानों से जुड़े मसले पर सवाल करते हुए शाह ने पूछा कि अखिलेश जी हमें बताएं कि आपकी सरकार ने किसानों से एमएसपी पर कितना गेहूं और चावल खरीदा? भाजपा की सरकार ने यूपी के करीब-करीब हर किसान के गेहूं और चावल की एमएसपी पर खरीद की है। 86 लाख किसानों का करीब हमने 36 हजार करोड़ रुपये का ऋण माफ किया है।

इसे भी पढ़ें: पलायन की याद दिलाकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में विरोध के माहौल को पलट रही है भाजपा

गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत प्रदेश के लगभग 2.48 करोड़ किसानों को 32,500 करोड़ रूपये अब तक हमारी सरकार दे चुकी है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार से पहले यहां जो सरकारें चली थी, उनके समय 21 चीनी मिलें बंद हो गई थी, सीबीआई के 12 मुकदमे दर्ज हैं। जबकि हमारी सरकार के कार्यकाल में एक भी चीनी मिल बंद नहीं हुई। शाह ने कहा कि भाजपा की सरकार आने से पहले 2-2 साल तक गन्ना किसान का भुगतान नहीं होता था। हमने सत्ता में आने के बाद रॉ शुगर के आयात पर ड्यूटी लगा दी। जिससे किसानों को चीनी का भाव ठीक होने से गन्ने का अच्छा भाव मिल सके। यूपी की भाजपा सरकार पर आपने भ्रष्टाचार का एक भी आरोप सुना है क्या? यूपी में भाजपा सरकार से पहले क्या कोई सरकार ऐसी थी जिसमें भ्रष्टाचार का आरोप न हो? भ्रष्टाचार-विहीन प्रशासन देना और भ्रष्टाचार विहीन सरकार बनाना हमारा लक्ष्य है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।