अरुणाचल में कोरोना के एक दिन में सर्वाधिक 157 मामले सामने आए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2020   14:49
अरुणाचल में कोरोना के एक दिन में सर्वाधिक 157 मामले सामने आए

पूर्वोत्तर राज्य में फिलहाल 1,205 लोगों का कोविड-19 के लिए इलाज चल रहा है। कैपिटल कॉम्प्लेक्स क्षेत्र में 186 लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं जो सबसे ज्यादा है।

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश में सोमवार को कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 157 नये मामले सामने आने के बाद राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 4,034 हो गए। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। नये मरीजों में से 13 को छोड़कर अन्य सभी में बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे। राज्य के सर्विलांस अधिकारी डॉ एल. जाम्पा ने कहा, “80 सैन्य कर्मी, अर्द्धसैनिक बल के 25 कर्मी, राज्य पुलिस के 52 कर्मी और 23 अग्निशमन कर्मी नये मरीजों में शामिल हैं।” जाम्पा ने बताया कि 157 नये मामलों में से 46 चांगलांग, 24 कैपिटल कॉम्प्लेक्स क्षेत्र, 19 सियांग, 12 लोअर सियांग, 11 पश्चिमी सियांग, 10 तवांग और नौ-नौ मामले पूर्वी सियांग और तिराप से सामने आए हैं।

अपर सुबानसिरी से पांच, अपर सियांग से तीन, लोअर दिबांग घाटी, पश्चिमी कमेंग, शी-योमी और लोअर सुबानसिरी से दो-दो तथा पापुमपरे से एक मामला सामने आया है। राज्य में रविवार को विभिन्न अस्पतालों से कम से कम 68 लोगों को छुट्टी दी गई जिसके बाद स्वस्थ होने वालों की संख्या 2,822 हो गई। राज्य में स्वस्थ होने वालों की दर 69.95 प्रतिशत है। अब तक सात लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। एक अगस्त के बाद से राज्य में 954 सुरक्षाकर्मियों समेत कुल 2,431 लोगों में बीमारी का पता चला है। 

इसे भी पढ़ें: अरुणाचल में कोरोना के 78 नये मामले, कुल मरीजों की संख्या 3,633 हुई

पूर्वोत्तर राज्य में फिलहाल 1,205 लोगों का कोविड-19 के लिए इलाज चल रहा है। कैपिटल कॉम्प्लेक्स क्षेत्र में 186 लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं जो सबसे ज्यादा है। इसके बाद पश्चिमी कमेंग में 177, पूर्वी सियांग में 158, चांगलांग में 123 और पश्चिमी सियांग में 85 मामले हैं। जाम्पा ने बताया कि राज्य में कोविड-19 के लिए अब तक 1,64,524 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 2,999 जांच रविवार को की गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...