राजस्थान में मेरा जादू स्थायी है: गहलोत

Ashok Gehlot  Delhi tour
प्रतिरूप फोटो
ANI
गहलोत ने कहा, ‘‘मेरा जादू स्थायी है प्रदेश के अंदर। मैं स्थायी जादूगर हूं। मेरा जादू अलग तरह का है...इतनी बार जनता ने मौका दिया...मेरी जिंदगी का मकसद गरीबों के आंसू पोछना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘..मैं चाहता हूं कि जनता इस बार जिताए। जनता के बीच हमारी कोई न कोई योजना पहुंच गई है...जनता से अपील करता हूं कि इस बार कृपा करो हम पर।’’

नयी दिल्ली, 19 अगस्त। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह स्थायी जादूगर हैं और प्रदेश में उनका जादू स्थायी है। उन्होंने प्रदेश की जनता से यह अपील भी की कि अगले विधानसभा चुनाव में उनकी सरकार को फिर से मौका दे। गहलोत ने प्रधानमंत्री की कांग्रेस के संदर्भ में की गई ‘काला जादू’ वाली टिप्पणी को लेकर यह बयान दिया। उनका यह बयान राजस्थान में कांग्रेस के भीतर की रस्साकस्सी के संदर्भ में भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, ‘‘हम तो बचपन से जादू-टोने के खिलाफ रहे हैं। जादू (मैजिक) अलग चीज है जिस पर मेरा विश्वास है।’’

गहलोत ने कहा, ‘‘मेरा जादू स्थायी है प्रदेश के अंदर। मैं स्थायी जादूगर हूं। मेरा जादू अलग तरह का है...इतनी बार जनता ने मौका दिया...मेरी जिंदगी का मकसद गरीबों के आंसू पोछना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘..मैं चाहता हूं कि जनता इस बार जिताए। जनता के बीच हमारी कोई न कोई योजना पहुंच गई है...जनता से अपील करता हूं कि इस बार कृपा करो हम पर।’’ गहलोत ने राजस्थान में एक दलित बच्चे की कथित हत्या से जुड़े विषय को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘ भाजपा-आरएसएस हिंदुओं को एक करने और हिंदू राष्ट्र की बात करते हैं। दलित वर्ग भी हिंदू, पिछड़े भी हिंदू हैं, सवर्ण भी हिंदू हैं। पहले इन तीनों को तो एक कर दो। इन्हें समानता का अधिकार तो दिला दो...आज भी जाति आधारित भेदभाव होता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़