बिहार में महागठबंधन की सरकार बनते ही अपराधियों के हौंसले हुए बुलंद: अश्विनी चौबे

ashwini chaubey
ANI
बिहार के विधि मंत्री कार्तिकेय सिंह के अपहरण की एक घटना में संलिप्तता को लेकर गरमाई राजनीति पर चौबे ने कहा कि सत्ता के लोभ में नीतीश कुमार ने दागी मंत्रियों पर चुप्पी साध ली है।
नयी दिल्ली। केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अश्विनी चौबे ने बृहस्पतिवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि राज्य में महागठबंधन की सरकार बनते ही वहां अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं। हाल के दिनों में बिहार में हुई कुछ आपराधिक घटनाओं का जिक्र करते हुए केंद्रीय पर्यावरण, वन व जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री ने कहा कि गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी भी मुख्यमंत्री के पास ही है, ऐसे में वह जवाबदेही से नहीं बच सकते। उन्होंने कहा, ‘‘महागठबंधन की सरकार बनते ही बिहार में अपराधियों ने तांडव मचाना शुरू कर किया है। हाल ही में एक फौजी की हत्या कर दी गई, एक बेटी को गाली मार दी गई। यह क्या हो रहा है बिहार में? लाठी में तेल पिलाने वालों की सरकार आ गई है इसलिए अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं।’’ 

इसे भी पढ़ें: PM की रेस में नीतीश कुमार की दावेदारी में कितना है दम, क्या विपक्ष नेता उन्हें कर पाएंगे स्वीकार?

चौबे ने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार ने सत्ता में बने रहने के लिए बिहार को आज अनिश्चितता के माहौल में ढकेल दिया है। यह पूछे जाने पर कि नीतीश ने ‘‘जंगलराज’’ लौटने के भाजपा के आरोपों को खारिज कर दिया है, केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘वह बिहार के मुख्यमंत्री के साथ ही गृहमंत्री भी हैं। उन्हें जवाब देना होगा। बिहार की जनता की आंख में वह धूल नहीं झोंक सकते।’’ बिहार के विधि मंत्री कार्तिकेय सिंह के अपहरण की एक घटना में संलिप्तता को लेकर गरमाई राजनीति पर चौबे ने कहा कि सत्ता के लोभ में नीतीश कुमार ने दागी मंत्रियों पर चुप्पी साध ली है। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में बढ़ सकती है नीतीश कुमार की टेंशन, मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने से जदयू के पांच विधायक नाराज!

मुख्यमंत्री कुमार ने जंगलराज लौटने के भाजपा के आरोपों को खारिज करते हुए इससे पहले कहा था कि सिंह पर लगे रहे आरोपों को देखा जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘जिसको जो मन में आता है बोलने दीजिए, जब जरूरत होगी तो सारी बात बोलेंगे। प्रचार-प्रसार में लोग बोलते हैं, इसका कोई मतलब नहीं है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़