उपलब्धियों भरी रही अयोध्या, फिर भी मंत्रिमंडल विस्तार में अयोध्या को नही मिला स्थान

उपलब्धियों भरी रही अयोध्या, फिर भी मंत्रिमंडल विस्तार में अयोध्या को नही मिला स्थान

हजारों करोड़ से तैयार हो रही अयोध्या फिर भी उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार के अंतिम सत्र में अयोध्या जनपद के विधानसभाओं को नही जगह नहीं मिली।

अयोध्या। उत्तर प्रदेश में अयोध्या उपलब्धियों भरा रहा है। इसके बावजूद जनपद के चारों विधानसभा में कोई भी जनप्रतिनिधि मंत्री पद तक नही पहुंच सका। प्रदेश के मंत्रिमंडल विस्तार में अयोध्या जनपद को स्थान नहीं मिल सका इसको लेकर सभी विधायक खामोश हैं।

इसे भी पढ़ें: अयोध्या में दीपोत्सव! सीएम योगी का ऐलान- 7.50 लाख दीप जलाकर बनाया जाएगा विश्व रिकॉर्ड

उत्तर प्रदेश में 2017 विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत के साथ योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी। जिसके बाद से अयोध्या को लगातार प्रदेश सरकार द्वारा सौगात मिलती जा रही है। साढ़े 4 वर्ष में अयोध्या बेहद खास बन चुकी है प्रदेश सरकार के द्वारा उपलब्धियों भरा अयोध्या शहर से अयोध्या जनपद और मंडल तक का विस्तार किया गया। वही लेकर के योजनाएं अयोध्या है वहीं स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किये जाने के लिए विजन डाक्यूमेंट्र भी तैयार किया गया। लेकिन आज मंत्रिमंडल के अंतिम विस्तार सत्र में भी अयोध्या को कोई स्थान नहीं मिल सका। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कहा, राम को ना मानने वाले जप रहे राम नाम

अयोध्या जनपद के अंतर्गत 5 विधानसभा आते हैं। जिसमें अयोध्या विधानसभा जनप्रतिनिधि वेद प्रकाश गुप्ता, रुदौली विधानसभा जनप्रतिनिधि रामचंद्र यादव, मिल्कीपुर विधानसभा बाबा गोरखनाथ, बीकापुर विधानसभा जनप्रतिनिधि शोभा सिंह और गोसाईगंज विधानसभा जनप्रतिनिधि इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू है। सभी सीटों पर भाजपा का कब्जा है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।