राम मंदिर निर्माण के आरंभ पर अयोध्या के मंदिरों से दीप जलाकर खुशी मनाने को कहा गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 25, 2020   20:42
राम मंदिर निर्माण के आरंभ पर अयोध्या के मंदिरों से दीप जलाकर खुशी मनाने को कहा गया

मुख्यमंत्री राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह की तैयारियों का जायजा लेने के लिए अयोध्या के दौरे पर थे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के सदस्यों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्तको अयोध्या आकर राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन कर सकते हैं।

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के सभी मंदिरों से भगवान राम के भव्य मंदिर के निर्माण की शुरुआत का उत्सव मनाने के लिए चार और पांच अगस्त को मंदिर परिसरों की अच्छी तरह सफाई करके दीप जलाने को कहा है। सूत्रों ने शनिवार को कहा। मुख्यमंत्री राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह की तैयारियों का जायजा लेने के लिए अयोध्या के दौरे पर थे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के सदस्यों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्तको अयोध्या आकर राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन कर सकते हैं।

न्यास ने मोदी को मंदिर के भूमि पूजन के लिए तीन अगस्त या पांच अगस्त को आमंत्रित किया है। दोनों ही तारीखें ग्रह-नक्षत्रों की गणना के आधार पर बहुत शुभ मानी गयी हैं।  श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र से जुड़े विश्व हिंदू परिषद के नेता त्रिलोकीनाथ पांडेय ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अयोध्या में सभी मंदिरों से इस शुभ दिवस को मनाने के लिए चार और पांच अगस्त को मंदिर परिसरों की साफ-सफाई करके उन्हें शुद्ध करने तथा दीप जलाने को कहा है।’’ मुख्यमंत्री ने शनिवार को कारसेवक पुरम में विश्व हिंदू परिषद के मुख्यालय में राम मंदिर न्यास के सदस्यों और संतों के साथ बैठक में यह बात कही। 

इसे भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ ने रामलला के किए दर्शन, भूमि पूजन की तैयारियों का भी लिया जायजा

पांडेय ने कहा, ‘‘बैठक में आदित्यनाथ ने कहा कि यह एक मंगल अवसर है जो 500 साल के संघर्ष के बाद आया है। पूरा देश आनंदित है और हमें भी इस क्षण उत्सव मनाना चाहिए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भव्य स्वागत करना चाहिए।’’ आदित्यनाथ ने शनिवार को अयोध्या का दौरा किया और राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण स्थल पर लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न को नए आसन पर विराजमान किया। मुख्यमंत्री दोपहर में अयोध्या पहुंचे और पूजा में शामिल हुए। उन्होंने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा अर्चना की और कार्यशाला में मंदिर निर्माण के लिए तराशे गये पत्थरों का निरीक्षण किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।