• बाबूलाल मरांडी के राजनीतिक सलाहकार दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार

पुलिस सूत्रों के मुताबिक रांची के अरगोड़ा थाने में 16 अगस्त को तिवारी के घर में घरेलू सहायिका रह चुकी नाबालिग आदिवासी लड़की ने दुष्कर्म, छेड़छाड़ और अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति कानून के तहत मामला दर्ज कराया था।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के राजनीतिक सलाहकार को रांची पुलिस ने नाबालिग घरेलू सहायिका से दुष्कर्म के आरोप में रविवार को उत्तर प्रदेश के इटावा से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक दल के नेता मरांडी के राजनीतिक सलाहकार सुनील तिवारी को रांची पुलिस ने इटावा से गिरफ्तार किया।

गिरफ्तारी के बाद तिवारी ने सीने में दर्द की शिकायत की जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक रांची के अरगोड़ा थाने में 16 अगस्त को तिवारी के घर में घरेलू सहायिका रह चुकी नाबालिग आदिवासी लड़की ने दुष्कर्म, छेड़छाड़ और अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति कानून के तहत मामला दर्ज कराया था।

तिवारी की गिरफ्तारी के लिए रांची पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर रही थी। निचली अदालत से अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज होने के बाद से वह फरार चल रहे थे।

तिवारी ने इस मामले में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी जिसे निचली अदालत ने खारिज कर दिया था। बाद में उन्होंने उच्च न्यायालय का भी दरवाजा खटखटाया लेकिन वहां कोई फैसला होने से पहले ही पुलिस ने रविवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया।