Budget 2020-21 से पहले CJI ने दिया बड़ा बयान, बोले- नागरिकों पर नहीं डाला जाना चाहिए टैक्स का बोझ

Budget 2020-21 से पहले CJI ने दिया बड़ा बयान, बोले- नागरिकों पर नहीं डाला जाना चाहिए टैक्स का बोझ

अर्थव्यवस्था से जुड़े बुनियादी आंकड़े उत्साहजनक नहीं हैं। लेकिन इस सब के बीच आम बजट से एक हफ्ते पहले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया शरद अरविंद बोबडे ने बड़ा बयान दिया है। जस्टिस बोबडे ने कहा कि नागरिकों पर टैक्स का बोझ नहीं डाला जाना चाहिए।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार की दूसरी पारी का दूसरा बजट 1 फरवरी को पेश करेंगी। यह बजट गांव, गरीब, किसान केंद्रित बताया जा रहा है। 1 फरवरी को आने वाला बजट मोदी सरकार का सबसे चुनौतीपूर्ण बजट होगा। यह बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के करियर का सबसे बड़ा इम्तहान होगा।

इसे भी पढ़ें: विदर्भ के मैदान पर CJI बोबडे ने खेला क्रिकेट मैच, ऑल जज- एकादश के लिए बनाए 18 रन

अर्थव्यवस्था से जुड़े बुनियादी आंकड़े उत्साहजनक नहीं हैं। लेकिन इस सब के बीच आम बजट से एक हफ्ते पहले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया शरद अरविंद बोबडे ने बड़ा बयान दिया है। जस्टिस बोबडे ने कहा कि नागरिकों पर टैक्स का बोझ नहीं डाला जाना चाहिए। चीफ जस्टिस ने ये बात इनकम टैक्स ट्रिब्यूनल के 79 वें स्थापना दिवस के कार्यक्रम में कही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।