भूपेंद्र चौधरी को बनाया जा सकता है उत्तर प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष, क्षेत्रीय-जातीय समीकरण साधने का प्लान!

Chaudhary Bhupendra
ANI
रेनू तिवारी । Aug 25, 2022 10:04AM
उत्तर प्रदेश के मंत्री भूपेंद्र चौधरी को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राज्य इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया जा सकता है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से संबंध रखने वाले जाट नेता चौधरी ने बुधवार शाम भाजपा अध्यक्ष जे. पी. नड्डा से मुलाकात की।

नयी दिल्ली। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री भूपेंद्र चौधरी को भाजपा की उत्तर प्रदेश इकाई का प्रमुख नियुक्त किए जाने की संभावना है। बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने मामले पर चर्चा के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ और चौधरी को दिल्ली बुलाया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जाट नेता भूपेंद्र चौधरी ने बुधवार को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से उनके आवास पर मुलाकात की। पार्टी सूत्रों के मुताबिक चौधरी को जल्द ही पार्टी पद पर नियुक्त किया जाएगा। पश्चिमी यूपी की 25 सीटों पर जाट समुदाय का प्रभाव है। इसके अलावा, पार्टी सूत्रों ने कहा कि भाजपा 2024 के चुनाव से पहले यूपी में प्रदेश अध्यक्ष को लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहती थी।

इसे भी पढ़ें: नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे और यमुना सिटी तक संपर्क को लेकर कई प्रस्तावों को मंजूरी 

 भूपेंद्र चौधरी बन सकते हैं उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष 

उत्तर प्रदेश के मंत्री भूपेंद्र चौधरी को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राज्य इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया जा सकता है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से संबंध रखने वाले जाट नेता चौधरी ने बुधवार शाम भाजपा अध्यक्ष जे. पी. नड्डा से मुलाकात की। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पूर्वी उत्तर प्रदेश से हैं, लिहाजा चौधरी को राज्य इकाई का प्रमुख नियुक्त करके भाजपा क्षेत्रीय संतुलन साधने पर विचार कर रही है।

भगवा संगठन को एक मजबूत चेहरे की तलाश थी जो सरकार और संगठन दोनों को स्वीकार्य हो। यही कारण है कि यूपी इकाई के अध्यक्ष के नाम को अंतिम रूप देने में पार्टी में हर स्तर पर गंभीर मंथन हुआ। चौधरी स्वतंत्र देव सिंह की जगह लेंगे, जिन्हें योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री बनाया गया है।

इसे भी पढ़ें: अडाणी समूह के एनडीटीवी के अधिग्रहण में वॉरंट की शर्तें महत्वपूर्ण: विधि विशेषज्ञ 

 भूपेंद्र चौधरी कौन हैं? 

मंत्री बनने से पहले चौधरी लंबे समय तक संगठन में क्षेत्रीय अध्यक्ष के रूप में कार्यरत रहे। उन्होंने 1999 में सपा संस्थापक मुलायम सिंह के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा था। उन्हें 10 जून, 2016 को उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सदस्य के रूप में चुना गया था। भूपेंद्र चौधरी की पहचान एक जाट नेता के रूप में की जाती है, जिनकी जाट बिरादरी और पश्चिमी यूपी में मजबूत पकड़ है। उनकी पकड़ का परिणाम पिछले राज्य के चुनावों में स्पष्ट हुआ था, जब पश्चिमी यूपी में किसानों के आंदोलन के बाद भी भाजपा एक शानदार जीत हासिल करने में सफल रही थी।

चौधरी का जन्म 1966 में मुरादाबाद जिले के थाना चजलात क्षेत्र के महेंद्र सिकंदरपुर गाँव में एक किसान परिवार में हुआ था। उन्होंने मुरादाबाद के आरएन इंटर कॉलेज से 12वीं की परीक्षा पास की।

अन्य न्यूज़