चुनाव के दौरान भाजपा केवल धर्म के बारे में सोच सकती है: ममता

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 29, 2019   12:37
चुनाव के दौरान भाजपा केवल धर्म के बारे में सोच सकती है: ममता

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि उन्होंने चुनाव जीतने के लिए कभी धर्म का इस्तेमाल नहीं किया बल्कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती हैं।

कोलकाता।पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया है कि भाजपा चुनाव जीतने के लिए धार्मिक कार्ड खेल रही है और भगवान राम के नाम का इस्तेमाल कर रही है, हालांकि वह अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करने में नाकाम रही है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि उन्होंने चुनाव जीतने के लिए कभी धर्म का इस्तेमाल नहीं किया बल्कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती हैं।

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल: केंद्रीय सशस्त्र बलों की 10 कंपनियां शुक्रवार को राज्य पहुंचेंगी

मारवाड़ी समुदाय की ओर से बृहस्पतिवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम में ममता ने कहा, "आप (भाजपा) चुनाव के लिए धर्म का इस्तेमाल करते हैं। आप (भगवान) राम का नाम लेकर चुनाव लड़ते हैं लेकिन पांच वर्षों में एक राम मंदिर नहीं बना सके।’’ ममता ने कहा, ‘‘हम चुनाव जीतने के लिए धर्म का इस्तेमाल नहीं करते। हम राम या रहीम, सिख या ईसाई सभी के साथ हैं।’’ उन्होंने कहा कि अगर आम चुनावों के बाद विपक्षी गठबंधन सत्ता में आएगा तो जीएसटी की समीक्षा और नोटबंदी की जांच की जाएगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।