चव्हाण के बयान पर बोली भाजपा, पार्टी अपना नाम बदलकर कांग्रेस मुस्लिम लीग रख ले

चव्हाण के बयान पर बोली भाजपा, पार्टी अपना नाम बदलकर कांग्रेस मुस्लिम लीग रख ले

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें वह शिवसेना के साथ गठबंधन करने की वजह का जिक्र कर रहे है। इस वीडियो में चव्हाण ये कहते हुए नजर आ रहे हैं कि मुस्लिम समुदाय के जोर देने की वजह से शिवसेना की सरकार में कांग्रेस शामिल हुई।

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें वह शिवसेना के साथ गठबंधन करने की वजह का जिक्र कर रहे है। इस वीडियो में चव्हाण ये कहते हुए नजर आ रहे हैं कि मुस्लिम समुदाय के जोर देने की वजह से शिवसेना की सरकार में कांग्रेस शामिल हुई। यह वीडियो महाराष्ट्र के नांदेड़ में नागरिकता कानून के खिलाफ हुई रैली का है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र सरकार में क्यों शामिल हुई कांग्रेस? अशोक चव्हाण ने दिया यह जवाब

उन्होंने कहा कि जब तक महाराष्ट्र में हमारी सरकार है तब तक हम सीएए को प्रदेश में लागू नहीं होने देंगे। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस शिवसेना सरकार में मुस्लिम समुदाय के कहने की वजह से शामिल हुई है। मुस्लिम समुदाय ने कहा था कि अगर हम सरकार में शामिल नहीं हुए तो भाजपा सत्ता में आ जाएगी।

इसे भी पढ़ें: शिवेसना ने विभागों के बंटवारे को लेकर सहयोगियों के बीच खींचतान की बात स्वीकार की

चव्हाण के इस बयान को लेकर भाजपा की कर्नाटक इकाई ने निशाना साधते हुए कहा कि अशोक चव्हाण ने इस बात को स्वीकार किया है कि शिवसेना के साथ सरकार बनाने के लिए उन्हें मुस्लिमों से अनुमति लेनी पड़ी है। अब वक्त आ गया है कि कांग्रेस अपना नाम बदलकर कांग्रेस मुस्लिम लीग रख ले। इसी के साथ भाजपा ने पूछा कि क्या कांग्रेस ने गठबंधन करने से पहले इमरान खान से भी इजाजत मांगी थी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।