भाजपा ने पेट्रोल पंप मालिकों को हड़ताल के लिए मजबूर किया: केजरीवाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Oct 22 2018 2:58PM
भाजपा ने पेट्रोल पंप मालिकों को हड़ताल के लिए मजबूर किया: केजरीवाल
Image Source: Google

आप सुप्रीमो ने कहा कि चार मेट्रो शहरों में से दिल्ली में ईंधन की कीमतें ‘‘सबसे कम’’ है। उन्होंने कहा कि मुंबई में तेल की कीमतें ‘‘सबसे ज्यादा’’ होने के बावजूद वहां पेट्रोल पम्प हड़ताल नहीं कर रहे हैं क्योंकि महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है।

नयी दिल्ली। ईंधन पर वैट कम करने से दिल्ली सरकार द्वारा इनकार किए जाने के विरोध में सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में 400 पेट्रोल पम्प और सीएनजी पम्प बंद रहने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर पेट्रोल पम्प मालिकों को आप सरकार के खिलाफ हड़ताल पर जाने के लिए ‘‘धमकाने’’ का आरोप लगाया है। केजरीवाल ने हिंदी में एक ट्वीट कर कहा, ‘‘भाजपा ने पेट्रोल पम्प मालिकों को धमकी दी है कि जो आज हड़ताल नहीं करेगा उस पर आयकर विभाग के छापे डलवाए जाएंगे। तेल कंपनियों ने भी धमकी दी है कि जो पेट्रोल पम्प हड़ताल नहीं करेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। भाजपा वाले दिल्ली वालों को तंग करना बंद करें। ये दिनदहाड़े गुंडागर्दी बंद करें।’’

 
आप सुप्रीमो ने कहा कि चार मेट्रो शहरों में से दिल्ली में ईंधन की कीमतें ‘‘सबसे कम’’ है। उन्होंने कहा कि मुंबई में तेल की कीमतें ‘‘सबसे ज्यादा’’ होने के बावजूद वहां पेट्रोल पम्प हड़ताल नहीं कर रहे हैं क्योंकि महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है। केजरीवाल ने रविवार को कहा था कि पेट्रोल पम्प मालिकों ने उन्हें ‘‘निजी’’ तौर पर बताया कि यह हड़ताल भाजपा द्वारा प्रायोजित है और तेल कंपनियां सक्रियता से इसका समर्थन कर रही हैं।
दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (डीपीडीए) ने ईंधन पर वैट कम करने से आप सरकार के इनकार के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी के सभी 400 पेट्रोल पम्पों के साथ सीएनजी पम्पों को बंद रखने का आह्वान किया है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार पेट्रोल और डीजल को वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के तहत लाने की मांग करती है। उन्होंने यह भी दावा किया कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा ‘‘मनमाने कर’’ लागू किए जाने के कारण पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़े हैं जबकि लोगों को राहत देने के लिए इनके दाम कम होने चाहिए।
केजरीवाल ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘पिछले चार वर्षों में पेट्रोल पर अंधाधुंध कर मोदी जी ने लगाया है, हमने नहीं लगाया। मोदी जी कर घटाएं और जनता को राहत दें। हम मांग करते हैं कि पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाए। केंद्र सरकार पेट्रोल डीजल को जीएसटी में क्यों नही ला रही?’’ दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 81.74 रुपये प्रति लीटर और डीजल की 75.19 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 87.21 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 78.82 रुपये प्रति लीटर है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप