बलात्कारियों और भ्रष्टाचारियों की गंगोत्री है भाजपा: संजय सिंह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 25, 2019   15:19
बलात्कारियों और भ्रष्टाचारियों की गंगोत्री है भाजपा: संजय सिंह

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह ने कहा कि भाजपा को सरकार बनानी हो तो वो सैंकड़ों करोड़ रुपए देने को, मंत्री पद देने को या कोई भी रास्ता हो वो सभी रास्ते अपनाने को तैयार हो जाती है।

हिसार। हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) के नेता गोपाल कांडा द्वारा भारतीय जनता पार्टी को समर्थन दिए जाने की खबरों के बीच आम आदमी पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जिसमें आप सांसद संजय सिंह भाजपा पर एक के बाद एक कई सारे आरोप लगाए। संजय सिंह ने कहा कि भाजपा को सरकार बनानी हो तो वो सैंकड़ों करोड़ रुपए देने को, मंत्री पद देने को या कोई भी रास्ता हो वो सभी रास्ते अपनाने को तैयार हो जाती है। इसका एक उदाहरण हरियाणा में देखने को मिल रहा है। बलात्कार का आरोपी गोपाल कांडा से समर्थन लेकर सरकार बनाने को तैयार है भाजपा।

इसे भी पढ़ें: कांडा के समर्थन पर उमा भारती ने बीजेपी को दी नसीहत, हम अपने नैतिक अधिष्ठान को न भूलें

उन्होंने कहा कि दिल्ली की महिला गीतिका शर्मा के साथ बलात्कार हुआ जिसके बाद उसने आत्महत्या कर ली और न्याय न मिलने पर 6 महीने बाद पीड़िता की मां ने भी आत्महत्या कर ली। जिस घटना से पूरा देश शर्मशार हुआ, ऐसे आरोपी से भाजपा समर्थन लेकर सरकार बनाने जा रही है। संजय सिंह इतने में ही नहीं रुके उन्होंने कहा कि जिस हरियाणा में भाजपा ने 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' अभियान की शुरुआत की थी, आज उसी राज्य में बेटी के साथ बलात्कार, हत्या करने वाले आरोपी से भाजपा हरियाणा में सरकार बनाने का समर्थन लेने जा रही है।

इसे भी पढ़ें: गोपाल कांडा: कभी भाजपा के निशाने पर थे, अब बने पार्टी के ''संकटमोचक''

संजय सिंह ने कहा कि ऐसे बलात्कारियों को सत्ता में लाकर भाजपा कहना चाहती है कि बलात्कारियों और भ्रष्टाचारियों की गंगोत्री है और जो भी दुराचारी इसमें शामिल होगा, वो पवित्र हो जाएगा, सरकार और सत्ता के लिए BJP कुछ भी कर सकती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।