अखिलेश यादव बोले- झूठे वादों की महारथी है भाजपा, विधानसभा चुनाव से डर गई है पार्टी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 9, 2021   18:16
अखिलेश यादव बोले- झूठे वादों की महारथी है भाजपा, विधानसभा चुनाव से डर गई है पार्टी

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि, भाजपा झूठे वादों की महारथी है।यादव ने यहां एक बयान में कहा भाजपा सरकार विज्ञापन में नम्बर वन और शासन में शून्य है। उसे झूठे वादों में महारत हासिल है। मगर अब जनता सच्चाई से भलीभांति परिचित हो गई है।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सत्तारूढ़ भारतीय जानता पार्टी (भाजपा) को झूठे वादों की महारथी करार देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में निश्चित हार से डरी भाजपा बौखला गई है। यादव ने यहां एक बयान में कहा भाजपा सरकार विज्ञापन में नम्बर वन और शासन में शून्य है। उसे झूठे वादों में महारत हासिल है। मगर अब जनता सच्चाई से भलीभांति परिचित हो गई है। उन्होंने कहा कि जनता को भाजपा और समाजवादी सरकारों के बीच फर्क भी मालूम है। यादव ने कहा कि 2022 में प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में जनता के आक्रोश और अपनी हार से डरी भाजपा में बौखलाहट की स्थिति हैं।

इसे भी पढ़ें: जिला सिरमौर के गिरिपार क्षेत्र के हाटी समुदाय की मांग को लेकर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा से मिले सांसद सुरेश कश्यप

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा पर कानून-व्यवस्था को लेकर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा “ इसे कतई स्वीकार नहीं किया जाएगा। सच्चाई यह है कि भाजपा के राज में कहीं कोई सुरक्षित नहीं है। प्रशासन पूरी तरह पंगु है। महिलाएं असुरक्षित हैं। राजधानी लखनऊ में भी अपराधी बेफिक्र हैं। ” उन्होंने आरोप लगाया “ प्रदेश में भाजपा के अब तक के कार्यकाल में लोगों की जिन्दगी और युवाओं के भविष्य के साथ सिर्फ खिलवाड़ हुआ है। महंगाई ने लोगों की कमर तोड़ रखी है। खर्च बढ़ने और कमाई घटने से एक बड़ी आबादी के सपने टूट गए हैं। आक्रोशित जनता वर्ष 2022 के चुनाव में भाजपा को करारा जवाब देगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...