केजरीवाल पर मिर्च पाउडर हमले पर भाजपा ने कहा, AAP पीड़ित कार्ड खेल रही है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2018   16:35
केजरीवाल पर मिर्च पाउडर हमले पर भाजपा ने कहा, AAP पीड़ित कार्ड खेल रही है

भाजपा विधायकों ने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से मुलाकात की और केजरीवाल के एक सहयोगी को गिरफ्तार करने की मांग की जिसने यहां सचिवालय में मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंकने वाले व्यक्ति का कथित तौर पर प्रवेश कराया था।

नयी दिल्ली। दिल्ली भाजपा के विधायकों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मिर्च पाउडर हमले की घटना की विस्तृत जांच कराने की मांग की। भाजपा ने इसे आप की ‘साजिश’ बताते हुए आरोप लगाया कि पार्टी खुद को ‘पीड़ित दिखाने का’ खेल खेल रही है। भाजपा विधायकों ने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से मुलाकात की और केजरीवाल के एक सहयोगी को गिरफ्तार करने की मांग की जिसने यहां सचिवालय में मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंकने वाले व्यक्ति का कथित तौर पर प्रवेश कराया था।

विपक्ष के नेता विजेन्द्र गुप्ता ने कहा, ‘‘यह चौंकाने वाला है कि मुख्यमंत्री का कार्यालय (सीएमओ) और आप ने शिकायत दायर नहीं की। सीएमओ और आप को मुख्यमंत्री की हिफाजत और सुरक्षा से कोई लेना-देना नहीं है।’’ मुख्यमंत्री के एक सहयोगी को गिरफ्तार करने की मांग करते हुये भाजपा नेता ने कहा कि सहयोगी ने कथित तौर पर आरोपी अनिल शर्मा का सचिवालय में प्रवेश कराया था। गुप्ता ने कहा, ‘‘आप दिल्ली में हाई वोल्टेज ड्रामा कर रही है जिससे मुद्दे पर खुद को पीड़ित बताने की साजिश की बू आ रही है।’’

यह भी पढ़ें: मुझे ईमानदारी का सर्टिफिकेट प्रधानमंत्री मोदी से मिला है: अरविंद केजरीवाल

शर्मा ने पिछले सप्ताह दिल्ली सचिवालय में केजरीवाल के कार्यालय के बाहर उन पर मिर्च पाउडर फेंक दिया था। आम आदमी पार्टी (आप) ने हमले को ‘राजनीति से प्रेरित’ बताया था और जोर देकर कहा कि बीजेपी मुख्यमंत्री पर हमला करने के लिए दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर साजिश रच रही है। सोमवार को केजरीवाल की अगुवाई वाली पार्टी के विधायकों ने दिल्ली विधानसभा के चल रहे विशेष सत्र के दौरान हमले को लेकर पुलिस और केन्द्र की आलोचना की थी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास पर कारतूस के साथ शख्स गिरफ्तार

केजरीवाल सहित शीर्ष पार्टी नेताओं ने पिछले तीन सालों में उन पर हुये हमलों में भाजपा का हाथ होने का आरोप लगाया। केजरीवाल ने खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मांग की कि अगर वह दिल्ली के मुख्यमंत्री की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं कर सकते हैं तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। पुलिस आयुक्त से मुलाकात के दौरान भाजपा नेता गुप्ता के साथ उनकी पार्टी के नेता ओपी शर्मा और जगदीश प्रधान भी थे। दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री पर हुये हमले के सिलसिले में एक प्राथमिकी दर्ज की और इसकी अपराध शाखा मामले की जांच कर रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...