भाजपा हो गई पागलपन का शिकार, अखिलेश बोले- समझ में नहीं आती मोदी की विचारधारा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 23, 2019   17:12
भाजपा हो गई पागलपन का शिकार, अखिलेश बोले- समझ में नहीं आती मोदी की विचारधारा

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि एक तरफ़ गांधी जी, भगत सिंह, सरदार पटेल, बाबासाहेब और डॉ. लोहिया को अपनाने की कोशिश तो दूसरी तरफ़ उनका सम्मान, जिनका इन सबने खुला विरोध किया।

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा कि देश के भाईचारे को बिगाड़ने वाले नेता ये बात नहीं समझ रहे हैं कि नफ़रत ऐसा ज़हर है जो सबको ध्वस्त कर देगा। यादव ने कहा कि भाजपा पागलपन की शिकार हो गयी लगती है। अखिलेश ने अंग्रेजी में ट्वीट करके कहा कि समझ नहीं आता कि किन सिद्धांतों की बात हो रही है... भाजपा पागलपन का शिकार हो गयी लगती है। अखिलेश ने कहा कि एक तरफ़ गांधी जी, भगत सिंह, सरदार पटेल, बाबासाहेब और डॉ. लोहिया को अपनाने की कोशिश तो दूसरी तरफ़ उनका सम्मान, जिनका इन सबने खुला विरोध किया। उन्होंने हिन्दी में किये गए अन्य ट्वीट में कहा कि समझ में नहीं आता कि नरेन्द्र मोदी जी किस विचारधारा पर चलना चाहते हैं। 

इसे भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी मायावती, कहा- गठबंधन को जीताना पहली जिम्मेदारी

उल्लेखनीय है कि मोदी ने अपने ब्लाग में कहा था कि जो लोग आज डॉ. लोहिया के सिद्धांतों से छल कर रहे हैं, वही कल देशवासियों के साथ भी छल करेंगे। जो लोग डॉ. लोहिया के दिखाए रास्ते पर चलने का दावा करते हैं, वही क्यों उन्हें अपमानित करने में लगे हैं? मोदी ने कहा कि वे दल जो डॉ. लोहिया को अपना आदर्श बताते हुए नहीं थकते, उन्होंने पूरी तरह से उनके सिद्धांतों को तिलांजलि दे दी है। यहां तक कि ये दल डॉ. लोहिया को अपमानित करने का कोई भी कोई मौका नहीं छोड़ते। उन्होंने ओडिशा के वरिष्ठ समाजवादी नेता सुरेन्द्रनाथ द्विवेदी के हवाले से बताया कि डॉ. लोहिया अंग्रेजों के शासनकाल में जितनी बार जेल गए, उससे कहीं अधिक बार उन्हें कांग्रेस की सरकारों ने जेल भेजा।

मोदी ने कहा कि आज उसी कांग्रेस के साथ तथाकथित लोहियावादी पार्टियां अवसरवादी महामिलावटी गठबंधन बनाने को बेचैन हैं। यह विडंबना हास्यास्पद भी है और निंदनीय भी है। उन्होंने कहा कि लोहिया वंशवादी राजनीति को हमेशा लोकतंत्र के लिए घातक मानते थे। आज वे यह देखकर जरूर हैरान-परेशान होते कि उनके ‘अनुयायी’ के लिए अपने परिवारों के हित देशहित से ऊपर हैं। सपा प्रमुख ने कहा कि गुरुग्राम में मोहम्मद साजिद और उनके परिवार पर जो गुज़री वो कल्पना से परे है। देश के भाईचारे को बिगाड़ने वाले नेता ये बात नहीं समझ रहे हैं कि नफ़रत ऐसा ज़हर है जो सब को ध्वस्त कर देगा। 

इसे भी पढ़ें: मैं भी चौकीदार अभियान पर मायावती और अखिलेश यादव का वार

गुरुग्राम में भोंडसी के भूपसिंह नगर इलाके में मुस्लिम परिवार के कुछ बच्चे होली के दिन घर के बाहर क्रिकेट खेल रहे थे। इस मामले को लेकर वहां कुछ विवाद हुआ। इसके बाद 30 से 35 लोगों ने साजिद को कथित रूप से पीटना शुरू कर दिया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।