पठानकोट से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने किया नामांकन पत्र दाखिल

Ashwani Sharma
पठानकोट से बतौर भाजपा प्रत्याशी नामांकन करने वाले अश्वनी शर्मा 2012 में चुनाव जीतकर विधायक रह चुके हैं। 2017 में अश्वनी शर्मा पठानकोट विधानसभा से दोबारा चुनाव लड़े पर कांग्रेस के प्रत्याशी अमित विज से 11,170 वोट से चुनाव हार गए थे।

पठानकोट ।  पठानकोट और भोआ विधानसभा क्षेत्र से कुल छह नामांकन पत्र दाखिल किए गए। पठानकोट विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने और भोआ से भाजपा प्रत्याशी सीमा कुमारी, कांग्रेस के प्रत्याशी जोगिदर पाल और आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी लाल चंद कटारुचक्क की ओर से नामांकन दाखिल किया गया। इसके अलावा दो अन्य प्रत्याशियों ने बतौर निर्दलीय उम्मीदवार नामांकन पत्र दाखिल किए। इनमें पठानकोट विधानसभा से करतार सिंह की ओर से शिरोमणी अकाली दल अमृतसर, सिमरनजीत सिंह मान की ओर से जबकि यूद्धवीर सिंह की ओर से भोआ विधानसभा क्षेत्र से बतौर निर्दलीय प्रत्याशी नामांकन किया गया है। जिला पठानकोट से सोमवार शाम तक 16 प्रत्याशियों की ओर से नामांकन कराया जा चुका है। मंगलवार को नामांकन करने की अंतिम तिथि को भी कुछ निर्दलीय प्रत्याशियों द्वारा नामांकन किए जाने की संभावना है।

इसे भी पढ़ें: पंजाब की जनता पंजाब के भविष्य को ध्यान में रखकर कर करें मतदान--गजेंद्र सिंह शेखावत

पठानकोट से बतौर भाजपा प्रत्याशी नामांकन करने वाले अश्वनी शर्मा 2012 में चुनाव जीतकर विधायक रह चुके हैं। 2017 में अश्वनी शर्मा पठानकोट विधानसभा से दोबारा चुनाव लड़े पर कांग्रेस के प्रत्याशी अमित विज से 11,170 वोट से चुनाव हार गए थे। वहीं, भोआ से बतौर भाजपा प्रत्याशी नामांकन करने वाली सीमा कुमारी भी 2012 में विधायक बनीं थीं पर 2017 में दोबारा चुनाव लड़ने पर सीमा कुमारी को कांग्रेस के प्रत्याशी जोगिदर पाल से 27,496 वोट से चुनाव हार गईं थीं।

इसे भी पढ़ें: दामन थिंद बाजवा के निर्दलीय चुनाव लड़ने से कांग्रेस की मुसीबतें बढ़ेगी

बता दें कि इस बार का विधानसभा चुनाव भी काफी रोचक होने वाला है। एक बार फिर पठानकोट में कांग्रेस से अमित विज और भाजपा से अश्वनी शर्मा और भोआ में कांग्रेस से जोगिदर पाल और भाजपा से सीमा कुमारी चुनावी मैदान में आमने-सामने हैं। भोआ से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करने वाले लाल चंद ने 2017 में आरएमपीओआइ के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़कर 13353 वोट हासिल किए थे। माना जा रहा है कि जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में आम आदमी पार्टी की ओर से भी कांग्रेस और भाजपा की ही तरह मजबूत प्रत्याशियों को मैदान में उतारकर मुकाबले को रोचक बना दिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़