कोरोना वायरस: केरल मॉडल पर भाजपा का तंज, संबित पात्रा बोले- ईद में दी गई ढील के लिए धन्यवाद

Sambit Patra
अंकित सिंह । Jul 28, 2021 12:37PM
भारत में बुधवार को कोविड-19 के 43,654 नए मामले आए जिससे संक्रमण के कुल मामले 3,14,84,605 पर पहुंच गए जबकि 640 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 4,22,022 हो गयी।

एक तरफ देश के तमाम राज्यों में कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी लगातार दर्ज की जा रही है। वहीं केरल में कोविड-19 के मामलों में भयंकर इजाफा देखा जा रहा है। पिछले 24 घंटे में केरल में 22000 से ज्यादा नए मामले आए हैं जो देश में आए कुल मामलों के 50 फ़ीसदी है। केरल मॉडल पर लगातार अब सवाल उठाए जा रहे हैं। केरल में जिस तरह से संक्रमण के मामले आ रहे हैं वह वाकई चिंता बढ़ाने वाली है। इसी को लेकर अब भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी केरल मॉडल पर तंज कसा है। संबित पात्रा ने ट्वीट कर कहा कि देश में केरल से कोरोना के 50% मामले आ रहे हैं। ईद में दी गई ढील के लिए धन्यवाद। जैसा कि हमेशा अपेक्षित है नैरेटिव हमेशा कुंभ या कांवड़ यात्रा से जोड़कर दिखाई जाती है। क्या यही केरल मॉडल है? एक और ट्वीट में संबित पात्रा ने लिखा केरला मॉडल ?? ईद में छूट !!

भारत में बुधवार को कोविड-19 के 43,654 नए मामले आए जिससे संक्रमण के कुल मामले 3,14,84,605 पर पहुंच गए जबकि 640 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 4,22,022 हो गयी। केरल में मंगलवार को कोविड-19 के 22,129 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 33,05,245 हो गई। वहीं, जांच संक्रमण दर (टीपीआर) फिर से 12 फीसदी के पार हो गई। राज्य में पिछले 24 घंटे में 156 मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 16,326 हो गई। राज्य के पांच जिलों में संक्रमण के 2,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा 4,037 मामले मलाप्पुरम से सामने आए हैं। इसके बाद त्रिशूर में 2,623, कोझिकोड से 2,397 और एर्नाकुलम से 2,352 और पलक्कड़ से 2,115, कोल्लम से 1,914 और कोट्टायम से 1,136, तिरुवनंतपुरम से 1,100, कन्नूर से 1,072 और अलप्पुझा से 1,064 मामले सामने आए। विज्ञप्ति में बताया गया कि नए मरीजों में 116 स्वास्थ्यकर्मी हैं।

 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़