दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के जवाब के विरोध में भाजपा ने दिल्ली विधानसभा से बहिर्गमन किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 4, 2022   16:01
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के जवाब के विरोध में भाजपा ने दिल्ली विधानसभा से बहिर्गमन किया

दिल्ली विधानसभा सत्र के दूसरे दिन जब उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कोविड से जान गंवाने वालेलोगों को मुआवजा देने की दिल्ली सरकार की शक्ति छीन ली है, तो भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सदन से बहिर्गमन किया।

नयी दिल्ली। दिल्ली विधानसभा सत्र के दूसरे दिन जब उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कोविड से जान गंवाने वालेलोगों को मुआवजा देने की दिल्ली सरकार की शक्ति छीन ली है, तो भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सदन से बहिर्गमन किया। सिसोदिया ने भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता को “निरर्थक बात” नहीं करने को लेकर आगाह भी किया। गुप्ता ने पूछा था कि महामारी से मृत लोगों के आश्रितों को दिल्ली सरकार अनुकंपा के आधार पर नौकरी क्यों नहीं दे रही है?

इसे भी पढ़ें: MP बच्चों के वैक्सीनेशन में पहले पायदान पर, 20 जनवरी तक लगने है वैक्सीन

सिसोदिया ने इसके जवाब में भाजपा की आलोचना की और कहा कि उन्हें इसके लिए गृहमंत्री अमित शाह और तथा उपराज्यपाल के पास जाकर सवाल करना चाहिए। सिसोदिया ने कहा, “केजरीवाल सरकार, ड्यूटी पर तैनात किसी भी कर्मचारी के देहांत के बाद उसके परिजन को नौकरी देने के पक्ष में है लेकिन यह सेवा विभाग के अंतर्गत आता है जो दिल्ली के उपराज्यपाल के अधीन है।”

इसे भी पढ़ें: पट्टे पर दफ्तर जगह की मांग 2021 में दो प्रतिशत बढ़ी, 2019 के मुकाबले 45 प्रतिशत कम

इस मामले में शाह का नाम लिए जाने के बाद नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने सदन में अमित शाह जिंदाबाद के नारे लगाए और भाजपा के अन्य विधायकों के साथ बहिर्गमन किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।