चाय व्यापार संघ के नेता का भाजपा पर हमला, कहा- बागान कर्मियों का वेतन बढ़ाने का उनका वादा झूठा है

BJP
भगवा दल ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में रविवार को वादा किया कि वह राज्य के चाय बागान कर्मियों का न्यूनतम दैनिक वेतन 202 रुपए से बढ़ाकर 350 रुपए करेगी।

कोलकाता। चाय व्यापार संघ के एक नेता ने दावा किया है कि पश्चिम बंगाल में चाय बागानों में काम करने वालों का दैनिक न्यूनतम वेतन बढ़ाकर 350 रुपए किए जाने का भाजपा का वादा झूठा है, क्योंकि पार्टी ने पांच साल पहले असम में चाय श्रमिकों से किए इसी प्रकार के वादे को पूरा नहीं किया है। भगवा दल ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में रविवार को वादा किया कि वह राज्य के चाय बागान कर्मियों का न्यूनतम दैनिक वेतन 202 रुपए से बढ़ाकर 350 रुपए करेगी। 

इसे भी पढ़ें: असम की राजनीति में चाय बागान का खास योगदान, भाजपा और कांग्रेस मजदूरों को लुभाने में जुटे 

चाय कर्मियों की संयुक्त मंच समिति के नेता जियाउल आलम ने कहा, ‘‘असम में 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अपने घोषणापत्र में चाय कर्मियों को न्यूनतम 351.33 रुपए देने का वादा किया था। पार्टी ने चुनाव जीता, लेकिन वह वादे को पूरा नहीं कर पाई, इसलिए पश्चिम बंगाल के लिए किया गया वादा भी बिल्कुल झूठा है।’’ असम में भाजपा नीत सरकार ने चाय बागान कर्मियों का दैनिक वेतन 50 रुपए से बढ़ाकर 217 रुपए किए जाने के प्रस्ताव को पिछले महीने मंजूरी दी थी, लेकिन गुवाहाटी उच्च न्यायालय ने इस पर रोक लगा दी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़