चुनावी जंग जीतने कोपश्चिम यूपी में भाजपा का वॉररूम तैयार

चुनावी जंग जीतने कोपश्चिम यूपी में भाजपा का वॉररूम तैयार

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के पहले चरण में पश्चिमी यूपी में चुनावी जंग जीतने के लिए मेरठ में भाजपा का रविवार को विश्वविद्यालय रोड साकेत में भाजपा का मीडिया सेंटर खुल गया।पश्चिमी क्षेत्र में आने वाले 14 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए बीजेपी ने मेरठ को केंद्र चुना है

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के पहले चरण में पश्चिमी यूपी में चुनावी जंग जीतने के लिए मेरठ में भाजपा का रविवार को विश्वविद्यालय रोड  साकेत में भाजपा का मीडिया सेंटर खुल गया।पश्चिमी क्षेत्र में आने वाले 14 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए बीजेपी ने मेरठ को केंद्र चुना है। यहां शहर के बीचों बीच अपना वॉर रूम तैयार किया है। डिजिटली रूप से मजबूत इस वॉर रूम में बीजेपी के नेता बैठेंगे और चुनाव पर नजर रखेंगे। रविवार को सांसद राजेंद्र अग्रवाल सहित राष्ट्रीय प्रवक्ता जफर इकबाल, प्रदेश प्रवक्ता आलोक अवस्थी, गोपाल कुमार ने सेंटर इनॉगरेशन किया।

वेस्टर्न यूपी के इस सेंट्रलाइज्ड डिजिलट वॉर रूम को बनाने का बड़ा कारण चुनाव से जुड़ी जो भी अहम जानकारी है वो एक ही जगह पर मिल सके। प्रत्याशियों से जुड़ी जानकारियों से लेकर हर विधानसभा की सारी जानकारी यहां रहेगी। जिले से लेकर बूथ स्तर और पन्ने तक का पूरा चुनाव मैनेजमेंट इसी सेंटर से होगा। सेंटर पर बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य जफर इकबाल, प्रदेश प्रवक्ता आलोक अवस्थी, गोपाल कुमार प्रबंधन करेंगे। 24 घंटे वॉर रुम मीडिया और नेताओं के लिए खुला रहेगा।

कोरोना के कारण इस बार विधानसभा चुनाव सोशल से ज्यादा वर्चुअल है। इलेक्शन कमीशन ने कोविड के चलते पहले 23 जनवरी तक रैलियों, सभाओ पर रोक लगाई थी जिसे अब बड़ा कर 31 जनवरी कर दिया गया है । जिस प्रकार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उन्हें देखते हुए रैलियो की अनुमति भी कोविड गाइडलाइन को फॉलो करते हुए दी जाएगी। ऐसे में इस बार चुनाव वर्चुअल ज्यादा है। भाजपा जहां खुद को डिजिटली मजबूत कर चुकी है, वॉर रुम बना चुकी है। वहीं दूसरे दल सपा, बसपा, कांग्रेस अभी खामोश हैं। 

आपको बता दे की इस सेंटर का शुभारंभ करने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को आना था लेकिन खराब मौसम के कारण केशव मौर्य नहीं आए। दिल्ली से हेलिकॉप्टर से मेरठ आना तय था लेकिन मौसम खराबी के कारण केशव प्रसाद मौर्य नहीं आए। स्थानीय सांसद व प्रवक्ताओं ने मिलकर शुभारंभ किया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।