बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर ने दर्ज कराया अपना बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 30, 2020   07:59
बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर ने दर्ज कराया अपना बयान

लखनऊ पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कनिका कपूर को एक नोटिस देकर कहा गया था कि वह 30 अप्रैल को सरोजनी नगर थाने आकर अपना बयान दर्ज कराएं। इसी थाने में कनिका के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270 और 188 के तहत गत 20 मार्च को मुकदमा दर्ज हुआ था।

लखनऊ। कोविड-19 से संक्रमित हुई बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर का बयान बुधवार को लखनऊ की सरोजिनी नगर पुलिस ने दर्ज किया। लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय ने बताया कि सरोजिनी नगर पुलिस थाने की पुलिस आज कपूर का बयान दर्ज करने गयी थी। सरोजिनी नगर पुलिस थाने के निरक्षीक आनंद शाही ने बताया कि बुधवार दोपहर को पुलिस ने उनसे जो पूछताछ की उसमें उनके विदेश से वापस आने के बाद लखनऊ में उन पार्टियों की जानकारी ली गयी जिसमेंवह शामिल हुई थी। पुलिस ने कनिका के पासपोर्ट, हवाई यात्रा के टिकट आदि कागजों की फोटो कापी भी उनसे ली। लखनऊ पुलिस ने उन्हें 27 अप्रैल को सरोजिनी नगर थाने में 30 अप्रैल को हाजिर होकर अपना बयान दर्ज कराने के संबंध में सोमवार को एक नोटिस भेजा था। लेकिन पुलिस ने एक दिन पहले आज 29 अप्रैल को ही उनका बयान दर्ज कर लिया। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना से जंग जीतने के बाद अपना प्लाज्मा डोनेट करना चाहती हैं कनिका, घर पहुंची डॉक्टर्स की टीम

लखनऊ पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कनिका कपूर को एक नोटिस देकर कहा गया था कि वह 30 अप्रैल को सरोजनी नगर थाने आकर अपना बयान दर्ज कराएं। इसी थाने में कनिका के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270 और 188 के तहत गत 20 मार्च को मुकदमा दर्ज हुआ था। यह मुकदमा लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की शिकायत पर दर्ज कराया गया था गौरतलब है कि 14 और 15 मार्च को लखनऊ में आयोजित कुछ पार्टियों में कनिका ने शिरकत की थी। इनमें उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। 

इसे भी पढ़ें: कनिका कपूर को प्लाज्मा दान करने के लिए करना पड़ेगा इंतजार

हालांकि इन सब की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। गत 19 मार्च को कनिका के कोरोना संक्रमित होने का पता चलने के बाद उनकी यह कहते हुए तीखी आलोचना की गई थी कि उन्होंने लंदन से लौटने पर हवाई अड्डा प्रशासन द्वारा खुद को पृथक करने की सलाह न मानते हुए पार्टियां आयोजित कीं। इस मामले में कनिका के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ था। कनिका को लखनऊ स्थित एसजीपीजीआई में भर्ती किया गया था और तीन नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद छह अप्रैल को उन्हें छुट्टी दे दी गई थी। इस वक्त वह लखनऊ में अपने परिवार के साथ हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।