राममंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाना एकमात्र विकल्प: आलोक कुमार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2018   09:18
राममंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाना एकमात्र विकल्प: आलोक कुमार

विहिप के वरिष्ठ नेता आलोक कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि सरकार को अयोध्या में राममंदिर के निर्माण के लिए अध्यादेश लाने में वैसी ही तत्परता दिखानी चाहिए जैसा उसने अजा/अजजा कानून में संशोधन के लिए किया।

नयी दिल्ली। विहिप के वरिष्ठ नेता आलोक कुमार ने बृहस्पतिवार को कहा कि सरकार को अयोध्या में राममंदिर के निर्माण के लिए अध्यादेश लाने में वैसी ही तत्परता दिखानी चाहिए जैसा उसने अजा/अजजा (अत्याचार रोकथाम) कानून में संशोधन के लिए किया। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के नेता ने यह भी कहा कि राम मंदिर बनाने के लिए संसद में इसे मंजूर करवाना ही एकमात्र विकल्प है। 

इसे भी पढ़ें: तोगड़िया की RSS से गुजारिश, राममंदिर पर अपना रुख करे स्पष्ट

संगठन के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि विहिप मंदिर निर्माण के लिए कानून की मांग को लेकर राम लीला मैदान में विशाल रैली आयोजित करेगी। यह रैली संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने के दो दिन पहले नौ नवंबर को होगी। कुमार ने उम्मीद जतायी कि भाजपा नीत राजग सरकार शीतकालीन सत्र में विधेयक लाएगी। उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा, ‘उन्होंने (भाजपा) 1992 के राम जन्मभूमि आंदोलन के दौरान हमारे साथ कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी और मंदिर निर्माण पार्टी के घोषणापत्र में है। मुझे उम्मीद है कि सरकार आगामी शीतकालीन सत्र में कानून लाएगी।’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...