मध्य प्रदेश में त्रिकोणी मुकाबले के लिए बीएसपी तैयार, 8 सीटों पर घोषित किए प्रत्याशी

मध्य प्रदेश में त्रिकोणी मुकाबले के लिए बीएसपी तैयार, 8 सीटों पर घोषित किए प्रत्याशी

ग्वालियर-चंबल संभाग की जिन सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं, उनमें से मेहगांव, जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, भांडेर, करैरा और अशोकनगर में पूर्व में बसपा जीत दर्ज करा चुकी है। पिछले चुनाव में गोहद, डबरा और पोहरी में बसपा दूसरा दल रहा, जबकि ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व और मुंगावली में उसकी मौजूदगी नतीजों को प्रभावित करने वाली साबित हुई।

भोपाल। मध्य प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले उप चुनाव में बीएसपी दमखम के साथ उतरने वाली है। गुरूवार को बीएसपी ने ग्वालियर-चंबल संभाग की 8 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशीयों की घोषणा कर दी। जिसके बाद अब यह माना जा रहा है कि उपचुनाव की जंग त्रिकोणीय होगी। यह माना जा रहा है कि बहुजन समाज पार्टी प्रदेश में हो रहे उपचुनाव के लिए पूरी ताकत से जोर आजमाइश करेगी। इनमें से ज्यादातर सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं। इस सीटों पर बसपा तीसरी बड़ी पार्टी के रूप में चुनाव में जोर आजमाइश करेगी।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर-चंबल संभाग में बीएसपी की अच्छी पकड़ है। उप चुनाव वाली 16 सीटे इसी संभाग से आती है जहाँ बसपा के वोटों की अच्छी-खासी संख्या है। विधानसभा चुनाव 2018 के में यहां की ज्यादातर सीटों में बसपा के प्रत्याशी दूसरी स्थान पर रहे थे। वही अब यह माना जा रहा है कि उपचुनाव में बीएसपी की भूमिका कांग्रेस के वोट बैंक को सेंध लगाने वाली हो सकती है। ग्वालियर-चंबल संभाग की जिन सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं, उनमें से मेहगांव, जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, भांडेर, करैरा और अशोकनगर में पूर्व में बसपा जीत दर्ज करा चुकी है। पिछले चुनाव में गोहद, डबरा और पोहरी में बसपा दूसरा दल रहा, जबकि ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व और मुंगावली में उसकी मौजूदगी नतीजों को प्रभावित करने वाली साबित हुई। डेढ़ साल पहले मुरैना में भाजपा की पराजय में बसपा की मौजूदगी प्रमुख कारण था। इसके अलावा पोहरी, जौरा, अंबाह में बसपा के चलते भाजपा तीसरे नंबर पर पहुंच गई थी।

इसे भी पढ़ें: पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा मध्य प्रदेश की जनता नहीं भरेगी बिजली का बिल

बीएसपी द्वारा गुरूवार को घोषित की गई सीटों में मुरैना जिले की जौरा सीट से सोनाराम कुशवाहा पूर्व विधायक बसपा, मुरैना से राम प्रकाश राजोरिया, मुरैना जिले की अंबाह से भानु प्रताप सिंह सखवार, भिंड की मेहगांव सीट से योगेश मेघसिंह नरवरिया, भिंड जिले की गोहद से जसवंत पटवारी, ग्वालियर जिले की डबरा से संतोष गौड़, शिवपुरी जिले की पोहरी से कैलाश कुशवाहा और शिवपुरी जिले की करैरा सीट से राजेंद्र जाटव चुनाव मैदान में पार्टी प्रत्याशी होगें।

ग्वालियर-चंबल संभाग की जिन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं, उनमें से मेहगांव, जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, भांडेर, करैरा और अशोकनगर में पूर्व में बसपा जीत दर्ज करा चुकी है। पिछले चुनाव में गोहद, डबरा और पोहरी में बसपा दूसरे सबसे बड़े दल की भूमिका में थी।  जबकि ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व और मुंगावली में उसकी मौजूदगी नतीजों को प्रभावित करने वाली साबित हुई। डेढ़ साल पहले मुरैना में भाजपा की पराजय में बसपा की मौजूदगी प्रमुख कारण था। इसके अलावा पोहरी, जौरा, अंबाह में बसपा के चलते भाजपा तीसरे नंबर पर पहुंच गई थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।